Patrika Hindi News

मंडी में प्याज बेचने एक बजे रात से खड़े रहे किसान, हंगामा मचाया तो दोपहर बाद खरीदी, देखिए कैसे बिलबिला रहे किसान

Updated: IST Rewa photo
पत्रिका लाइव: एसडीएम को घेरा, चक्का जाम के बाद शुरू कराई अनलोडिंग, राशन दुकानों पर प्याज अनलोड करने भेज रहे थे अधिकारी, मंडी में दोपहर दो बजे तक 300 से अधिक ट्रैक्टर-टालियों की लगी रही कतार

राजेश पटेल, रीवा. कृषि उपज मंडी करहिया में तौल के बाद प्याज राशन दुकानों पर अनलोड करने के विरोध में किसानों ने जमकर हंगामा मचाया। किसान मंडी में ही प्याज उतारने पर अड़े रहे। हंगामा बढऩे पर दोपहर में हुजूर एसडीएम पहुंचे और मंडी में ही प्याज अनलोड कराने के निर्देश दिए। करीब चार घंटे बाद दो बजे प्याज खरीदी शुरू हुई। गौरतलब है कि प्रदेशभर में किसानों के आंदोलन के बाद शासन ने 30 जून तक प्याज खरीदने की बात कही थी, लेकिन जिला प्रशासन ने 20 जून तक ही खरीदी की तिथि निर्धारित की है। इसकी सूचना पर रविवार रात से ही मंडी में किसान प्याज लेकर पहुंचने लगे। सोमवार सुबह तक 300 से अधिक ट्रैक्टर-ट्रालियों की कतार लग गई।

एसडीएम को घेरा, चक्का जाम के बाद शुरू कराई अनलोडिंग

किसानों का सब्र उस समय टूट गया जब अधिकारी बगैर खर्च दिए मंडी की बजाय प्याज सेल्समैनों के गोदाम में अनलोड करने के लिए भेजने लगे। इससे भड़के किसानों ने हंगामा शुरू कर दिया। 10.30 बजे जिला खाद्य नियंत्रक एमएनएन खान ने मंडी पहुंचकर समझाने का प्रयास किया लेकिन सहमति नहीं बनी। हंगामें की सूचना पर दोपहर 1.45 बजे पहुंचे एसडीएम केपी पांडेय को किसानों ने घेरकर दस्तावेज दिखाए और कहा कि मंडी में ही प्याज अनलोड कराई जाए। एसडीएम मंडी में ही प्याज उतारने के निर्देश देकर चले गए, लेकिन अनलोडिंग शुरू नहीं हुई तो किसानों ने भाकियू के अनिल सिंह के साथ मिलकर मंडी के सामने चक्काजाम कर दिया। आखिरकार अधिकारियों के निर्देश पर मंडी में ही प्याज अनलोड कराई गई।

तौल कांटा पर बुलानी पड़ी पुलिस

मंडी के सामने सोमवार सुबह तौल कांटा पर भीड़ बेकाबू हुई तो सूचना पर पुलिस पहुंची, लाठियां भांजकर वाहनों को कतार में किया गया। फिर बारी-बारी से देरशाम तक तौल का सिलिसला जारी रहा।

दो-दो बार तौल, वसूल रहे दोगुना पैसा

कृषि मंडी का इलेक्ट्रानिक तौल कांटा छह माह से खराब पड़ा है। किसानों की प्याज मंडी गेट के सामने निजी धर्मकांटा पर तौल कराई जा रही है। किसानों ने बताया कि चोरहटा में 70 रुपए प्रति ट्रैक्टर तौल का लिया जा रहा है, लेकिन यहां दोगुना पैसा 120 रुपए वसूल जा रहा है। घोपी के अनिल पटेल ने कहा कि आठ एकड़ में प्याज लगाई थी। दो ट्रैक्टर प्याज लेकर मंडी पहुंचे। पहले चोरहटा में कांटा करवाया, जिसे अमान्य कर दिया गया तो यहां फिर कांटा कराया।

अव्यवस्था के चलते सडऩे लगी प्याज

मंडी टीन शेड में रखी प्याज सडऩे लगी है। सोमवार को उज्जैन से भेजी गई प्याज को टीन शेड में रखा गया है, जिसे राशन दुकानों पर भेजा जाना था, लेकिन सेल्समैन उठाव में रूचि नहीं ले रहे हैं।

किसानों की जुबानी...

तौल कराने के बाद प्याज अनलोड नहीं कराई जा रही है। शहर में राशन दुकान पर भेजा जा रहा है। जिसका खर्च किसान कहां से वहन करेगा।

विकास, मांडा,

दो-दो बार प्याज की तौल कराई जा रही है। पहले अधिकारी और फिर दुकानदार तौल करा रहा है। दोनों का खर्च किसान को देना पड़ रहा है।

रामलाल पटेल, घोपी

कुछ देर के लिए बिजली कट गई थी, इसलिए किसानों में तौल के लिए बेचैनी होने लगी। तौल शुरू कराने के बाद मामला शांत हो गया। सभी किसानों की प्याज तौल करने के बाद सैल्समैनों को सौंप दिया गया है।

केपी पांडेय, एसडीएम, हुजूर

राशन दुकानों पर नहीं मिली प्याज, लौटे गरीब

पचास फीसदी दुकानों पर नहीं पहुंची प्याज, कई दुकानों पर दो रुपए किलो प्याज के लिए मची रही मारामारी

रीवा. शहर के 45 वार्डों में प्याज वितरण की व्यवस्था पहले दिन ही फ्लॉप रही। खाद्य विभाग ने सोमवार से राशन दुकानों पर दो रुपए किलो प्याज वितरण की घोषणा की थी, लेकिन ज्यादातर दुकानों पर प्याज पहुंची ही नहीं। कुछ दुकानों पर पहुंची तो विक्रेता गायब रहे।

शहर के वार्ड-6 में शाम 4 बजे तक दुकान पर प्याज लेने महिलाएं इंतजार करती रहीं। उन्हें यह कहकर वापस कर दिया गया कि मंगलवार को प्याज वितरण की जाएगी। संतरा देवी ने बताया कि वह सुबह ही प्याज लेने पहुंची, तब विक्रेता ने बताया कि दोपहर बाद प्याज आ जाएगी, लेकिन शाम पांच बजे तक प्याज नहीं पहुंची। इसी तरह शहर के पचास फीसदी दुकानों पर वितरण शुरू नहीं हो सका। जिन दुकानों पर दोपहर बाद प्याज पहुंची भी, वहां पर कुछ लोगों को देकर दुकानें बंद कर दी गई।

पहले दिन समय से प्याज नहीं पहुंची, इसलिए मंगलवार से राशन दुकानों पर प्याज वितरण शुरू कराया जाएगा। कुछ दुकानों पर वितरण यिका गया है।

एमएनएच खान, जिला खाद्य एवं आपूर्ति अधिकारी,

अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???