Patrika Hindi News

पुलिस ने पांच लोगों से 8.60 लाख रू, के नए नोट किए जब्द, बैंकों के मिले होने का शक

Updated: IST police caught 5 people, police caught 5 people wit
दोपहर सिविल लाइन चौराहे पर कालेधन को नई करंसी से एक्सचेंज की सूचना गोपालगंज पुलिस को मिली थी। हरकत में आई पुलिस ने चौराहे की घेराबंदी कर संदिग्ध हालत में बैग लेकर किसी का इंतजार करते मिले एक युवक व उसके साथी को पुलिस ने दबोच लिया।

सागर.काले धन को नई करंसी से एक्सचेंज करने की सूचना पर गुरुवार को पुलिस ने पांच लोगों को हिरासत में लिया है। उनके एक बैग से 7.50 लाख रुपए के दो-दो हजार के नए नोट व 1.79 लाख रुपए के पुराने नोट मिले हैं। मामला सामने आते ही पुलिस अधिकारी सक्रिय हो गए। इतनी तादाद में नई करेंसी मिलने पर पुलिस ने आयकर अधिकारियों को जांच के लिए बुलाया। पुलिस व आयकर दल ने देर रात तक नई करंसी को लेकर युवकों से पूछताछ की। अधिकारी युवकों के खातों का ब्यौरा भी खंगालने में जुटे हैं।

दोपहर सिविल लाइन चौराहे पर कालेधन को नई करंसी से एक्सचेंज की सूचना गोपालगंज पुलिस को मिली थी। हरकत में आई पुलिस ने चौराहे की घेराबंदी कर संदिग्ध हालत में बैग लेकर किसी का इंतजार करते मिले एक युवक व उसके साथी को पुलिस ने दबोच लिया।

पूछताछ में युवक चौराहे पर खड़े होने की वजह नहीं बता सका तो पुलिस ने उसके साथ मौजूद व्यक्ति को भी अपने साथ वाहन में बैठा लिया। कुछ ही देर बाद पुलिस ने उनके तीन अन्य साथियों को भी पूछताछ के लिए थाने बुला लिया। सीएसपी गौतम सोलंकी ने बताया युवक के बैग से तलाशी के दौरान 7.50 लाख रुपए की नई करंसी और 1.79 लाख के पुराने नोट मिले थे।

बयानों में अंतर
पुलिस अवैध रूप से करंसी एक्सचेंज की आशंका पर उन्हें पूछताछ के लिए थाने ले गई। नोटों के बैग के साथ मिले युवक ने अपना नाम दीपक जैन बताया है। उसका कहना था कि वह व्यापारी है और यह राशि भी उसके व्यापार की है, लेकिन पुलिस ने जब उसके मकरोनिया निवासी साथी संजीव जैन से पूछताछ की तो दोनों के बयानों में अंतर मिला। मौके से पूछताछ के लिए थाने लाए गए गंजबासौदा निवासी कैलाश कुशवाह व दो अन्य युवक भी पुलिस को अलग-अलग जवाब देते रहे।

इन बिंदुओं पर जारी है पड़ताल
- सिविल लाइन चौराहे से पूछताछ के लिए थाने ले जाए गए गौरझामर निवासी दीपक जैन, मकरोनिया के संजीव जैन व गंजबासौदा के कैलाश कुशवाह सहित दो अन्य से पुलिस करंसी को लेकर पूछताछ कर रही है।
- पुलिस व आयकर अफसर जानने का प्रयास कर रहे हैं कि इतनी संख्या में 2000 रुपए के नए नोट उनके पास कैसे आ गए ?
- अधिकारियों की दिलचस्पी इसमें है बाध्यता के बावजूद खुद को व्यापारी बताने वाला युवक 7.50 लाख रुपए किस खाते से निकाल लाया है ?
- नकद आहरण पर बंदिश व सरकार द्वारा कैशलेस व्यवस्था को बढ़ावा देने के निर्देशों के बावजूद युवक इतनी राशि बैग में लेकर क्यों आया था, जबकि अधिकांश व्यापार ऑनलाइन या चैक से संचालित हो रहे हैं ?
- युवक जो नोट लेकर आए थे वे नोट किन-किन बैंक खातों से कब-कब निकाले गए थे और उन्हें नोट उपलब्ध कराने वाले खाताधारक से उनका क्या संबंध है ?

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???