Patrika Hindi News

कीचड़ में गणवेश हो जाती है गंदी, पैरों में चुभते हैं कांटे, फिर पहुंचते हैं स्कूल

Updated: IST Unicorns become muddy in the mud, thorns in the fe
ग्राम पंचायत खड़ेसरा के लेहटवास गांव में भरछा रोड पर रहने वाले स्कूली बच्चे पक्का रोडन होने के कारण कीचड़ के बीच से होकर स्कूल पहुंचते हैं। इसके बाद अभी तक वहां पक्की सड़क नहीं बनाई गई है, सिर्फ जनप्रतिनिधियों के आश्वासन ही मिले हैं।

बीना.बीना विधानसभा के अंतर्गत यह गांव आता है। भारछा रोड पर रहने वाले करीब 12 बच्चे स्कूल पहुंचने के लिए डेढ़ किलोमीटर का सफर कीचड़ में तय करते हैं। स्कूल पहुंचते-पहुंचते बच्चों की गणवेश खराब हो जाती है और पैरों में कांटे चुभ जाते हैं। तेज बारिश होने पर कई बच्चे स्कूल ही नहीं पहुंच पाते हैं। एक बार एक अभिभावक ने अपने बेटे को स्कूल से लौटते समय पानी का बहाव ज्यादा होने पर बड़ी मशक्कत के बाद उसकी जान बचा पाईथी। अभिभावक अपने-अपने बच्चों को स्कूल तक छोडने जाते हैं। भरछा रोड पर करीब 34 परिवार 10 वर्षों से रह रहे हैं। कई बार लोग विधायक, सरपंच से सड़क की मांग कर चुके हैं, लेकिन आश्वासन के अलावा कुछ नहीं मिला है।

पांच वर्ष पहले बना था रोड

मिली जानकारी के अनुसार पांच वर्षपहले यहां रोड बनाया गया था, लेकिन रोड इतना घटिया बना कि वह पूरी तरह से खराब हो चुका है और अब दुबारा रोड नहीं बनाया जा रहा है। यदि रोड गुणवत्तापूर्णबना होता तो बच्चों को परेशानी नहीं होती।
नहीं बन पा रही फाइल

कुछ वर्षों पूर्व यहां रोड बनाया गया था जो खराब हो चुका है। पहले रोडबन जाने के कारण अब फाइल नहीं बन पा रही है। रोड के लिए दो वर्षों से प्रयास कर रहे हैं।

दामोदर साहू, सरपंच, खड़सेरा

यह भी पढ़े :
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मॅट्रिमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???