Patrika Hindi News

याेग दिवस पर विशेष: असाध्य राेगाें का इलाज नहीं है याेग - पद्मश्री भारत भूषण

Updated: IST Saharanpur
अंतरराष्ट्रीय याेग दिवस पर सहारनपुर में ही याेद कराएंगे भारत भूषण

सहारनपुर. याेग करने की काेई उम्र नहीं हाेती, याेग आसन मात्र नहीं है, याेग एक जीवन शैली है, सांस लेना भी एक याेग है। किसी भी उम्र में याेग किया जा सकता है आैर यह तथ्य बिल्कुल सत्य है कि स्वस्थ रहने के लिए याेग बेहद सरल, शुलभ आैर सस्ता साधन है। जरूरत है ताे बस उसे समझने की आैर उसमें रमने की। एक पांच साल का बच्चा आैर 80 साल का बूढ़ा दाेनाें ही याेग कर सकते हैं। बस यह समझने आैर जानने की जरूरत है कि हर उम्र के लिए याेग के अलग-अलग तरीके हैं आैर अलग-अलग क्रियाए हैं। यह कहना है पद्मश्री भारत भूषण का है। पत्रिका के साथ बातचीत के दाैरान उन्‍होंने यह स्पष्ट किया कि याेग असाध्य राेगाें का इलाज नहीं है। अगर राेग अपनी चरम सीमा पर है आैर उस स्टेज में हम याेग से राेग काे नष्ट करने का प्रयास करें ताे यह संभव नहीं।

अंतरराष्ट्रीय याेग दिवस से ठीक पहले हमने भारत भूषण से बात कि ताे उन्हाेंने बताया कि 21 जून काे वह दिल्ली या लखनऊ नहीं, बल्कि अपनी जन्म आैर कर्मभूमि सहारनपुर में ही याेग कराएंगे। सहारनपुर में इस बार याेग काे लेकर बड़ी तैयारियां चल रही हैं आैर जिले में अलग-अलग स्थानाें पर हजाराें की संख्या में लाेग याेग करेंगे।

पद्मम श्री भारत भूषण ने बताया कि याेग असाध्य राेगाें का इलाज नहीं है। अगर राेग अपनी चरम सीमा पर है आैर उस स्टेज में हम याेग से राेग काे नष्ट करने का प्रयास करें ताे यह संभव नहीं। वह मानते हैं कि दरअसल याेग काे समझने की जरूरत है। याेग स्वस्थ रहने का जरिया है। अगर हम नित्य याेग करते हैं ताे दावा किया जा सकता है कि असाध्य राेग हमे घेरेंगे ही नहीं। याेग शरीर काे वह शक्ति प्रदान करता है, जिससे हम राेगाें से लड़ सकें। याेग हमारे शरीर आैर मन काे इतना मजबूत कर देता है कि राेग हमारे शरीर में घर ही ना कर पाए।

याेग का बाजीरीकरण ठीक नहीं

जिस तरह से आज याेग का बाजारीकरण हाे रहा है उसे पद्मश्री भारत भूषण सही नहीं मानते। उनका कहना है कि स्वस्थ रहना सभी का अधिकार है आैर अगर याेग का बाजारीकरण हद से अधिक हाेगा ताे यह सिर्फ आर्थिक रूप से मजबूत लाेगाें के लिए ही रह जाएगा। एेसे में याेग का बाजारीकरण एक हद के बाद ठीक नहीं है।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???