Patrika Hindi News

पहाड़ी कोरवा आश्रम का अधीक्षक Duty से था नदारद, इधर Fever से तड़प रहा था बालक

Updated: IST child in hospital
पहाड़ी कोरवा आश्रम का निरीक्षण करने पहुंचे जनपद अध्यक्ष व उपाध्यक्ष के सामने आश्रम अधीक्षक की लापरवाही हुई उजागर, बच्चे को मेडिकल कॉलेज अस्पताल में कराया भर्ती

अंबिकापुर. शासन द्वारा पहाड़ी कोरवा बच्चों के लिए लुंड्रा ब्लॉक के भिट्ठीखुर्द में आश्रम खोला गया है ताकि बच्चे यहां रहकर पढ़ाई कर सकें। बच्चों की देखभाल के लिए आश्रम में अधीक्षक सहित अन्य की ड्यूटी लगाई गई है। लेकिन अधीक्षक की लापरवाही से एक बालक बुखार से पीडि़त होने के बावजूद आश्रम में ही तड़पता रहा।

अधीक्षक पीडि़त बालक का इलाज कराने की बजाय ड्यूटी से भी नदारद था। जब जनपद अध्यक्ष व उपाध्यक्ष आश्रम के निरीक्षण में पहुंचे तो उन्होंने बालक को अस्पताल में भर्ती कराया।

जनपद अध्यक्ष पूनम सिंह टेकाम व उपाध्यक्ष संजय राजवाड़े ने भि_ीखुर्द स्थित विशेष पिछड़ी जनजाति (पहाड़ी कोरवा आश्रम) का निरीक्षण किया। इस दौरान आश्रम अधीक्षक धनसाय नदारद मिले। वहीं एक बालक अर्जुन बुखार से पीडि़त मिला। उसे काफी कमजोरी भी हो गई थी।

जनपद अध्यक्ष व उपाध्यक्ष तत्काल उसे अपने वाहन से प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र भफौली लाए। यहां चिकित्सक ने प्राथमिक उपचार के बाद उसे मेडिकल कॉलेज अस्पताल अंबिकापुर रेफर कर दिया।

बच्चे की तबीयत खराब होने व उसके भर्ती होने की जानकारी परिजन के साथ विभागीय अधिकारियों को भी दी गई। जनप्रतिनिधियों ने आश्रम में इस तरह की अव्यवस्था को लेकर नाराजगी जाहिर की। निरीक्षण के दौरान विकास सिंह, रविशंकर पैंकरा व पूरन सिंह टेकाम उपस्थित थे।

जनपद अध्यक्ष पूनम सिंह टेकाम ने कलक्टर को पत्र लिखकर कोरवा आश्रम के बच्चों के लिए गर्म कपड़े व जूता-मोजा दिलवाने की मांग की है। यहां रह रहे बच्चों के पास गर्म कपड़े नहीं हैं जिससे उन्हें ठंड में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। इसकी वजह से उनकी सेहत भी बिगड़ रही है।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???