Patrika Hindi News

> > > > Ambikapur : The truck collision killed school bus, 5 student injured, the drunken driver beaten and blockade

ट्रक ने School Bus को मारी टक्कर, 5 बच्चे घायल, शराबी Driver की पिटाई फिर चक्काजाम

Updated: IST blockade on Ambikapur-Bilaspur road
अंबिकापुर-बिलासपुर मार्ग पर ग्राम लहपटरा के पास डि-हिलाक्स पब्लिक स्कूल की बस 30 बच्चों को छोडऩे जा रही थी घर, गुस्साए लोगों ने टायर जलाकर किया चक्काजाम

अंबिकापुर. सड़कों पर मौत बनकर दौड़ रही भारी वाहनों की रफ्तार पर जिन्हें लगाम लगाने की जिम्मेदारी दी गई है। उस जिम्मेदार विभाग क्षेत्रीय परिवहन कार्यालय के अधिकारी सड़क पर आए दिन होने वाले हादसों में लोगों की जान जाने के बाद भी अभी तक चिरनीद्रा में है।

अंबिकापुर-बिलासपुर मुख्य मार्ग पर गुरुवार की शाम ग्राम लहपटरा के समीप डि-हिलॉक्स पब्लिक स्कूल की बस को नशे में धुत ट्रक चालक ने पीछे से टक्कर मार दी। इससे आक्रोशित ग्रामीणों ने चालक की जमकर धुनाई कर दी और टायर जलाकर घंटों चक्काजाम कर दिया। बाद में एसडीएम के आश्वासन के बाद लोगों ने चक्काजाम समाप्त किया।

नगर के डि-हिलॉक्स पब्लिक स्कूल की बस क्रमांक सीजी 15 एबी 0375 का चालक स्कूल की छुट्टी होने के बाद बच्चों को छोडऩे गुरुवार की शाम गया हुआ था। अबिंकापुर-बिलासपुर मुख्य मार्ग पर ग्राम लहपटरा के समीप स्थित ग्रामीण बैंक के सामने स्कूली बस बच्चों को उतार रही थी।

इसी दौरान अंबिकापुर की तरफ से आ रही एक तेज रफ्तार ट्रक क्रमांक सीजी 15 एसी 2797 का चालक प्रतापगढ़ निवासी राजू तिग्गा नशे में धुत होकर बस के पीछे जबरदस्त टक्कर मार दी। इस दौरान स्कूली बस में 30 से अधिक स्कूली बच्चे सवार थे। टक्कर से पीछे बैठे बच्चों को चोटें भी आई। टक्कर की आवाज सुनकर आसपास के लोग वहां तत्काल पहुंच गए।

पहले उन्होंने स्कूली बस में सवार बच्चों की स्थिति देखी व 5 घायल बच्चों को तत्काल लखनपुर स्वास्थ्य केंद्र पहुंचवाया। इसी दौरान कुछ ग्रामीणों द्वारा नशे में धुत ट्रक के चालक राजू तिग्गा को पकड़कर उसकी जमकर धुनाई कर दी। घटना की सूचना पर तत्काल मौके पर लखनपुर पुलिस पहुंच गई। पुलिस ने पहले आक्रोशित ग्रामीणों से ट्रक चालक को छुड़वाया। इसके बाद लोगों को समझाइश भी दी।

आक्रोशित ग्रामीणों ने किया चक्काजाम

अंबिकापुर-बिलासपुर मुख्य मार्ग पर बेलगाम भारी वाहनों की वजह से हो रहे हादसों में किसी न किसी कि मौत हो रही है, बल्कि लोग दुर्घटना में गम्भीर रूप से घायल होकर आर्थिक रूप से परेशान हो रहे हैं। लेकिन प्रशासन मौत बनकर दौड़ रहे इन भारी वाहनों पर अंकुश लगाने के लिए अब तक कोई कारगार कदम नहीं उठा रहा है।

इससे नाराज ग्रामीणों ने दुर्घटना के बाद सड़क पर बैठ गए और बीचों-बीच टायर जलाकर चक्काजाम कर दिया।इससे सड़क के दोनों तरफ वाहनों की लंबी कतार लग गई। ग्रामीणों द्वारा चक्काजाम किए जाने की सूचना मिलने पर एसडीएम नुपूर राशि पन्ना ने पहुंचकर लोगों को समझाने का प्रयास किया।

लेकिन ग्रामीण स्कूली समय के दौरान सुबह 7 से 10 बजे तक व दोपहर 3 से 5 बजे तक अंबिकापुर-बिलासपुर मार्ग पर भारी वाहन नहीं चलने देने की मांग पर अड़े हुए थे। एसडीएम द्वारा प्रतिबंध लगाने का आश्वासन देने के बाद ग्रामीणों ने चक्काजाम समाप्त किया।

कब खुलेगी आरटीओं की आंखें

आए दिन भारी वाहनों के चपेट में आकर लोग अपनी जान गंवा रहे हैं, लेकिन इसके बावजूद आरटीओ विभाग के जिम्मेदार अधिकारी ऑफिस में बैठकर आराम फरमा रहे हैं। नशे में धुत होकर व अप्रशिक्षित चालकों द्वारा वाहनों को चलाया जा रहा है। लेकिन आज तक आरटीओ विभाग द्वारा इनके खिलाफ अभियान चलाकर कोई कार्रवाई नहीं की गई है।

प्रशासन की सख्ती के बाद कुछ माह पूर्व यातायात विभाग द्वारा जरूर कुछ वाहनों चालाकों के खिलाफ कार्रवाई करते हुए उनके फर्जी लाइसेंस की जांच कर एफआईआर भी कराया गया था। लेकिन जिस विभाग को यह जिम्मेदारी दी गई है वह अगर अपनी आंखें खोले तो हादसों पर कुछ हद तक अंकुश लगाया जा सकता है।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!

Latest Videos from Patrika

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???