Patrika Hindi News

एरियर निकालने के एवज में हेड-क्लर्क ने मांगी थी 600 रुपए की रिश्वत, लोकायुक्त ने धर दबोचा

Updated: IST Head-Clerk Trap taking bribe of 600 rupees
पीएचई कार्यालय सतना में लोकायुक्त रीवा की दबिश, पीएचई कार्यालय में एक हेड-क्लर्क को रीवा लोकायुक्त की 12 सदस्यीय टीम ने धर दबोचा है।

सतना। पीएचई कार्यालय में एक हेड-क्लर्क को रीवा लोकायुक्त की 12 सदस्यीय टीम ने धर दबोचा है। बताया गया कि आरोपी क्लर्क एरियर और सर्विस बुक बनाने के बाद पंप ऑपरेटर से 600 रुपए रिश्वत की मांग की। न देने पर बेवजह परेशान कर रहा था। धक-हारकर पीडि़त ने लोकायुक्त कार्यालय रीवा पहुंचकर मामले की शिकायत की।

शिकायत सही पाए जोने पर आरोपी को पकडऩे के लिए जाल बिझाया। मंगलवार की सुबह 10.25 बजे जैसे ही पीडि़त ने पैसे दिए तो लोकायुक्त ने रंगे हाथ पकड़ लिया। लोकायुक्त टीम भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत मामला दर्ज कर रही है।

बना दिया गया था पंप ऑपरेटर

प्रमोद प्रसाद खरे पिता कामता प्रसाद 49 वर्ष निवासी नयन चौराहा उतैली पीएचई कार्यालय सतना में डेली वेजेज का कर्मचारी था। जिसको पिछले वर्ष परमानेंट कर पंप ऑपरेटर बना दिया गया। उसी का एरियर निकालने और सर्विस बुक बनाने के लिए सहायक ग्रेड-दो राम प्रकाश सोनकर पिता ह्रदयचन्द्र सोनकर 50 वर्ष निवासी पूनम भवन के पीछे धवारी गली नंबर-2 से संपर्क किया।

नौकरी से संबंधित सभी दस्तावेज तैयार

हालांकि रामप्रकाश सोनकर ने पंप ऑपरेटर के नौकरी से संबंधित सभी दस्तावेज तैयार कर एरियर की रकम एकाउंट में भेजवा दिया था। अंत में 500 रुपए एरियर और 100 रुपए सर्विसबुक बनाने के लिए रिश्वत की मांग की। रिश्वत की रकम मांगते ही पीडि़त का माथा ठनका और जाकर लोकायुक्त से शिकायत कर दी।

डीएसपी देवेश पाठक के नेत्रत्व में कार्रवाई

शिकायत सही पाए जाने पर लोकायुक्त टीम ने मंगलवार को पीएचई कार्यालय में दबिश देकर पकड़ लिया। ट्रैपिंग की कार्रवाई लोकायुक्त डीएसपी देवेश पाठक के नेत्रत्व में लोकायुक्त निरीक्षक अरविन्द तिवारी, निरीक्षक विधावारिध तिवारी सहित 12 सदस्यीय टीम ने की है। आरोपी सहायक ग्रेड-दो पर भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया जा रहा है।

यह भी पढ़े :
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मॅट्रिमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???