Patrika Hindi News

IIT रुड़की से किसान के बेटे ने स्कालरशिप में किया MTech, MPPSC में पाई चौथी रैंक

Updated: IST Ankit Kumar Gautam
गरीबी में पलकर शिखर पर पहुंचा किसान पुत्र, अटरा निवासी अंकित कुमार गौतम ने स्कालरशिप में आईआईटी रुड़की में की पढ़ाई, मामूली किसान का बेटा बिना पैसे की पढ़ाईकर हो गए कामयाम।

सतना। 'कौन कहता है आसमां में छेंद नहीं होता एक पत्थर तो तबियत से उछालो यारो' इस कहावत को चरितार्थ किया है एक मामूली किसान के बेटे ने जो मुफलिसी में पला-बढ़ा और सरकारी इमदाद से एमपीपीएससी क्वालीफाई कर एसडीओ पद पर चयनित हुआ। हम बात कर रहे है उचेहरा जनपद के अटरा निवासी अंकित कुमार गौतम पिता शिवकुमार गौतम 24 वर्ष की।

जिनका हालही में पीडब्ल्यूडी एसडीओ पद पर चयन हुआ है और उसने एमपी में फोर्थ रैंक हासिल की है। स्वामी विवेकानंद को आदर्श मानने वाले अंकित अपनी सफलता का श्रेय अपने माता-पिता को देते है।

इस तरह शुरू हुई शिक्षा की डगर

अंकित ने पत्रिका को बताया कि उन्होंने 5वीं तक की पढ़ाई सरस्वती शिशु मंदिर अटरा में की। इसके बाद उनका चयन नवोदय विद्यालय में हो गया। जहां कक्षा 6 से 8वीं तक की पढ़ाई की। इसके बाद मैहर सरस्वती विद्यालय से 9वीं और 10वीं फिर 11वीं और 12वीं की पढ़ाई उत्कृष्ट विद्यालय की। स्कालरशिप में रीवा इंजीनियरिंग कॉलेज से बीटेल इलेक्ट्रिक और आईआईटी रुड़की से एमटेक किया।

यूपीएससी की तैयारी चालू

पीडब्ल्यूडी में एसडीओ बनने के बाद अंकित का अगला सपना यूपीएससी क्वालीफाई कर कलेक्टर बनना है। ट्रेनिंग के साथ ही घर में ही सुबह-शाम खाली समय में यूपीएससी की तैयारी शुरू कर दिए है। स्वामी विवेकानंद को आदर्श मानने वाले अंकित अपनी सफलता का श्रेय अपने माता-पिता को देते है।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???