Patrika Hindi News

> > > > Naib Tehsildar Reader Trap, Taking a bribe of Rs 3500

नायब तहसीलदार का रीडर ट्रैप, नाना की जमीन सुधार के लिए मांगी थी 3500 रुपए की रकम

Updated: IST Reader of Naib Tehsildar
रीवा लोकायुक्त ने की अमरपाटन तहसील अंतर्गत मौहारी कटरा वृत्त में कार्रवाई, बटवारे में नाना की 18 डिस्मिल जमीन चढ़ गई दूसरे भाई के हिस्से में।

सतना। अमरपाटन तहसील अंतर्गत मौहारी कटरा वृत्त ऑफिस में पदस्थ रीडर को रीवा लोकायुक्त की टीम ने रिश्वत लेते ट्रैप किया है। बुधवार की सुबह करीब 10.30 बजे जैसे ही रीडर ने 3500 रुपए की रकम पीडि़त के हाथों से लिया तभी लोकायुक्त ने दबोच लिया। बताया गया कि पीडि़त के नाना की 18 डिस्मिल जमीन आराजी नंबर-250/2 जो चचेरे नाना के हिस्से में चली गई थी।

जिसके सुधार के लिए रीडर 4000 रुपए मांग रहा था। यह कार्रवाई निरीक्षक विद्याबारिध तिवारी व हितेन्द्रनाथ शर्मा के नेत्रत्व में 30 सदस्यीय टीम ने की है। आरोपी रीडर के खिलाफ भष्ट्राचार निवारण अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया है।

रीवा लोकायुक्त में शिकायत

लोकायुक्त एसपी टीके विद्यार्थी ने बताया कि लामी करही निवासी जितेन्द्र द्विवेदी पिता शिवनारायण 30 वर्ष ने रीवा लोकायुक्त में शिकायत की थी कि नायब तहसीलदार वृत्त मौहारी कटरा का रीडर मनभरण वर्मा, नाना दामोदर प्रसाद त्रिपाठी की 18 डिस्मिल जमीन आराजी नंबर-250/2 जो चचेरे नाना जर्नादन प्रसाद त्रिपाठी के हिस्से में चली गई थी।

4000 रुपए की मांग

जिसके सुधार के लिए पीडि़त ने उप तहसील मौहारी कटरा में आवेदन किया था। इस पर रीडर ने सुधार के लिए 4000 रुपए पीडि़त से मांगे थे। बाद में सौदा 3500 रुपए में तय हुआ। इधर, पीडि़त ने बेवजह रुपए लेने की शिकायत लोकायुक्त से कर दी थी। शिकायत की पुष्टि होने के बाद 30 सदस्यीय दल ने नायब तहसीलदार के ऑफिस में बुधवार को दबिश दी।

3500 रुपए लेते दबोचा

जहां आरोपी रीडर को लोकायुक्त ने 3500 रुपए लेते दबोचा लिया। निरीक्षक विद्याबारिध तिवारी ने रीडर के हांथ धुलवाया तो लाल हो गए। उप तहसील में अचानक लोकायुक्त की धमक से कुछ देर के लिए अफरा-तफरी मच गई। बाद में जब मामले का पता चला तो लोग शांत हुए। लोकायुक्त की टीम भष्ट्राचार निवारण अधिनियम के तहत आरोपी के खिलाफ कार्रवाई कर रही है।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!

Latest Videos from Patrika

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???