Patrika Hindi News

अंतरिक्ष किरणों का पता लगाने के लिए नासा छोड़ेगा विशाल बैलून

Updated: IST super pressure balloon
नासा ने एक बयान में कहा कि अगर मौसम अनुकूल रहा, तो सुपर प्रेशर बैलून को सुबह 8 बजे और पूर्वाह्न 11.30 बजे के बीच छोड़ा जाएगा

वाशिंगटन। अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा अंतरिक्ष किरणों का पता लगाने के लिए शनिवार को टेलीस्कोप भेजने के लिए फुटबॉल के मैदान जितने बड़े एक सुपर प्रेशर बैलून को अंतरिक्ष में भेजने की तैयारी कर रहा है। सुपर प्रेशर बैलून (एसपीबी) का उड़ान परीक्षण न्यूजीलैंड के वानाका हवाईअड्डे से होगा और संभावित तौर पर यह 100 दिनों का सफर होगा।

नासा ने एक बयान में कहा कि अगर मौसम अनुकूल रहा, तो सुपर प्रेशर बैलून को सुबह 8 बजे और पूर्वाह्न 11.30 बजे के बीच छोड़ा जाएगा। 2017 वानाका बैलून कैंपेन के मिशन प्रबंधक गाबे गार्डे ने कहा, इस वक्त, मौसम सतह पर तथा वायुमंडल के निचले स्तर पर अच्छा है और यह शनिवार को बैलून को छोडऩे के प्रयास के अनुकूल हैं। इस उड़ान का उद्देश्य एसपीबी टेक्नोलॉजी की जांच तथा पुष्टि करने के साथ ही इसका उद्देश्य मध्य-अक्षांश पर लंबे समय तक उड़ान भरना है।

इसके अलावा, सुपर प्रेशर बैलून पर यूनिवर्सिटी ऑफ शिकागो का एक्स्ट्रीम यूनिवर्स स्पेस ऑब्जर्वेटरी (ईयूएसओ-एसपीबी) 2017 एसपीबी अंतरिक्ष किरणों का पता लगाने के लिए एक मिशन है। ईयूएसओ-एसपीबी की डिजाइन उच्च-ऊर्जा वाली अंतरिक्ष किरणों का पता लगाना है, जो हमारी आकाशगंगा के बाहर से निकलती है और पृथ्वी के वायुमंडल को भेदती है।

यह भी पढ़े :
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मॅट्रिमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???