Patrika Hindi News

> > scienctist develop Selfie deaths prompt app technology to warn of dangers

'सेल्फी अलर्ट एप' देगा जानलेवा सेल्फी की चेतावनी

Updated: IST deaths prompt app
अमरीका के कारनेगी मेलन यूनिवर्सिटी में कंप्यूटर साइंस में पीएचडी कर रहे हेमंत लांबा व दिल्ली की इंद्रप्रस्थ सूचना प्रौद्योगिकी संस्थान के प्रोफेसर पोन्नुरंगम कुमार गुरु एक ऐसा एप विकसित कर रहे हैं जो सेल्फी लेते समय खतरे का संकेत देगा।

सेल्फी लेना अब संक्रामक बीमारी बनती जा रही है। सेल्फी के कारण काफी मौतें हो रही हैं। इससे बचाव के लिए अमरीका व भारत के वैज्ञानिक एक सेल्फी एलर्ट एप तैयार रहे हैं, जो खतरनाक पोज देने वालों को चेतावनी देगी कि इससे मौत हो सकती है। पेंसिल्वेनिया, अमरीका के पिट्सबर्ग में कारनेगी मेलन यूनिवर्सिटी से कम्प्यूटर साइंस में पीएचडी कर रहे हेमनाक लांबा यह एप बना रहे हैं, वहीं दिल्ली के इंद्रप्रस्थ सूचना प्रौद्योगिकी संस्थान के प्रोफेसर पोन्नुरंगम कुमार गुरु भी कुछ इसी तरह के एप पर काम कर रहे हैं। मालूम हो कि सेल्फी के दौरान अब तक सबसे अधिक मौतें भारत में ही हुई हैं और यह आंकड़ा बढ़ रहा है।

एप बता देगा मोबाइल पर खतरे का संकेत

हेमनाक लांबा बताते हैं कि उनकी टीम ने इसके एक एलगोरिथम विकसित की है, जो आंकड़ों और तथ्यों के आधार पर लोगों को यह बता सकेगी कि कौन-सा स्थान खतरनाक है। इस एप के माध्यम से खतरनाक स्थानों पर सेल्फी के लिए पहुंचने वालों के मोबाइल फोन से घंटी बज जाएगी, जिससे यह पता चल जाएगा कि जहां आप पहुंचने वाले हैं वह स्थान खतरनाक है। टीम का दावा है कि देश, समय और स्थिति के आधार पर खतरनाक सेल्फी की पहचान और एलर्ट से संबंधित शोधों में 70 प्रतिशत से अधिक सफलता मिली है और शीघ्र ही वे इस एप को लॉन्च कर सकेंगे।

सेल्फी मौतों से व्यथित होकर शुरू किया रिसर्च

प्रोफेसर कुमार गुरु कहते हैं कि सेल्फी से लगातार होने वाली मौत की खबर ने उन्हें व्यथित कर दिया। इसलिए हम सेल्फी के दौरान मौत की घटनाओं और उससे बचने के विभिन्न आयाम पर काम कर रहे हैं। इनमें स्मार्टफोन के कैमरे से खतरनाक स्थानों व परिस्थितियों के बारे में चेतावनी की सूचनाएं विशेष रूप से शामिल हैं। साथ में खतरनाक स्थान को क्रमवार भी डिस्प्ले भी किया जाएगा। मोबाइल फोन में फ्रंट कैमरा आ जाने से सोशल मीडिया पर तरह-तरह की सेल्फी पोज शेयर करने की होड़ में 'सेल्फी मौतों की खबरें भी समाचार-पत्रों, टेलीविजन चैनलों आदि पर सुर्खियां बंटोरने लगी। इससे आहत यह टीम इस एप पर काम कर रही है।

अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!

Latest Videos from Patrika

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???