Patrika Hindi News

> > > > Constable’s son calling from the SIM sought ransom of two million

हवलदार के बेटे की सिम से कॉल कर मांगी दो लाख की फिरौती

Updated: IST sehore
फर्जी दस्तावेज से जारी हुई थी सिम , होम्योपैथी डॉक्टर को फोन पर बच्चों के अपहरण की धमकी देने वाला गिरफ्तार

सीहोर। हवलदार के बेटे की सिम से एक मास्टर माइंड ने होम्योपैथी के डॉक्टर को फोन लगाकर दो लाख रुपए की फिरौती मांगी थी। फिरौती के दो लाख रुपए नहीं देने पर बच्चों का अपहरण करने की धमकी भी दी गई थी।

पुलिस ने जब इस मामले की जांच की तो सिम फर्जी दस्तावेज से लेने की बात सामने आई और पुलिस ने आरोपी को दबोच लिया। आरोपी ने श्यामपुर क्षेत्र से फर्जी कागज से सिम खरीदी थी। इसके बाद फिरौती मांगने के लिए कॉल किया था। कोतवाली थाना प्रभारी अजय नायर ने बताया कि पुलिस ने करीब तीन सप्ताह पहले इंग्लिशपुरा निवासी हैम्योपेथी डॉ. अंकुर मालवीय की रिपोर्ट पर धमकी देने का मामला कायम किया था। डॉक्टर ने रिपोर्ट में कहा था कि बदमाशों ने उसे दो लाख रुपए नहीं देने पर बच्चों के अपहरण की धमकी दी है। इस मामले में पुलिस छानबीन कर रही थी।

पुलिस पड़ताल में पता चला कि जिस मोबाइल नंबर से हौम्यापैथी डॉक्टर को धमकी दी गई थी, वह मंडी थाने के हवलदार घनश्याम दांगी के बेटे आनंद के दस्तावेज के नाम से दर्ज है। जब इस संबंध में गहन छानबीन की तो पता चला कि श्यामपुर क्षेत्र के इमलीखेड़ा निवासी मास्टर माइंड गोलू पाटीदार पिता राधेश्याम पाटीदार ने यह सिम श्यामपुर स्थित एक मोबाइल सेंटर से फर्जी कागज देकर खरीदी है। पुलिस ने आरोपी गोलू को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस आरोपी से पूछताछ कर रही है कि हवलदार के बेटे के नाम का कागज उसके पास तक कैसे पहुंंचे? टीआई का तर्क है कि इस मामले में जो भी आरोपी होगा, उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे