Patrika Hindi News

कक्षा पांच की एलिना की 'चतुर वानरÓ सर्वश्रेष्ठ

Updated: IST Story Festival
अब राज्य स्तरीय प्रतियोगिता में प्रतिभा दिखाएंगे जिले के सर्वश्रेष्ठ कहानीकार

सीहोर.. बुदनी ब्लाक के तालपुरा प्राथमिक स्कूल में कक्षा पांचवीं की नन्ही बालिका की जिला स्तरीय कहानी उत्सव में सर्वश्रेष्ठ कहानी चुनी गई। नन्हीं बालिका ने 'चतुर वानरÓ कहानी सुनाकर प्रतियोगिता के सभी 15 प्रतिभागियों को मात देते हुए प्रथम स्थान प्राप्त किया। शिक्षकों की कहानी प्रतियोगिता में प्रथम स्थान माध्यमिक शाला खामखेड़ा जत्रा के शिक्षक ने प्राप्त किया है। जिला स्तरीय प्रतियोगिता में प्रथम स्थान प्राप्त दोनों प्रतिभागियों का चयन राज्य स्तरीय कहानी प्रतियोगिता के लिए हुआ है।

जिला स्तरीय कहानी प्रतियोगिता आवासीय स्कूल में जिला स्तरीय कहानी उत्सव का आयोजन किया गया। प्रतियोगिता में विजयी प्रतिभागियों में विद्यार्थी वर्ग में प्रथम स्थान कक्षा पांच की एलिना प्राथमिक शाला तालपुरा ब्लाक बुदनी ने प्राप्त किया। नन्हीं बालिका ने चतुर वानर कहानी काफी साराही गई। द्वितीय स्थान कक्षा आठ की नितिका इक्का ने पर्यावरण का महत्व कहानी को मिला। नितिका माध्यमिक शाला डाबा ब्लाक नसरूल्लागंज की छात्रा है। तीसरा स्थान माध्यमिक शाला मनुबेन स्कूल मंडी कक्षा आठ की सलोनी ने चतुर संाप कहानी को मिला। शिक्षक वर्ग में प्रथम स्थान माध्यमिक शाला खामखेड़ा जत्रा के शिक्षक बलवंत सिंह बगाना ने प्राप्त किया। उन्होंने सिद्धार्थ के जीवन को छूने वाली कहानी सुनाई।इसी तरह द्वितीय स्थान माध्यमिक शाला दिवडिय़ा के शिक्षक दशरथ सिंह ने तथा तृतीय स्थान माध्यमिक शाला हाउसिंग बोर्ड कालोनी सीहोर की सुनीता शर्मा ने प्राप्त किए। कार्यक्रम में पांचों विकास खंडों के प्रथम, द्वितीय तथा तृतीय स्थान पर चयनित विद्यार्थियों व शिक्षक उपस्थित थे। कार्यक्रम में 15 बच्चों एवं 15 शिक्षकों सहित कुल 30 प्रतियोगियों ने सहभागिता की थी। जिसमें 15 बच्चों तथा 15 शिक्षको ने रोचकपूर्ण तरीकों से अपनी-अपनी कहानियां सुनाई थी।

विजयी प्रतिभोगियों को दिए प्रमाण पत्र

कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्य अतिथि सीईओ जिला पंचायत डॉ. केदार सिंह ने मां सरस्वती की प्रतिमा पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्वलन कर किया। कार्यक्रम में विशेष अतिथि के रूप में उपस्थित हुए इछावर विधायक शैलेन्द्र पटेल ने बच्चों को सम्बोधित करते हुए अपने बचपन के रोचक संस्मरण से सभी को अवगत कराते हुए प्रेरणास्पद कहानियां भी सुनाईं। अन्त में कहानी प्रतियोगिता में भाग लेने वाले विजयी शिक्षकों एंव छात्रों को प्रमाणपत्र वितरित किए गए। कार्यक्रम में मुख्य अतिथियों के अलावा जिला शिक्षा अधिकारी अनिल वैद्य, डीपीसी सीबी तिवारी, प्राचार्य आवासीय स्कूल आलोक शर्मा, दीपक राठौर, डॉ.देवेन्द्र साहू प्रमुख रूप से उपस्थित थे।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???