Patrika Hindi News

इंग्लिशपुरा क्षेत्र में जलसंकट की आहट, भरा जा रहा नाला

Updated: IST Sehore
क्षेत्र के हैण्डपंप का गिरा जलस्तर, नाले में पानी आने पर होंगे फिर जीवित

सीहोर. शहर के इंग्लिशपुरा नाले में पानी सूखने का असर क्षेत्र के भूजल स्तर पर भी हो रहा है। टाउनहाल स्टाप डेम से लेकर कोतवाली चौराहे तक नाले में नाम मात्र पानी बचा है,नाले का जल स्तर कम होने के कारण इस क्षेत्र के हैण्डपंपों और बोर में भी पानी गायब हो चुका है। नगर पालिका इस जलसंकट पर काबू पाने के लिए अब फिर से इस नाले को भरने का प्रयास कर रही है। इस प्रयास में नगर पालिका द्वारा बुधवार से इस नाले में पाइप लाइन के माध्यम से पानी डाला जा रहा है। 24 घंटे से आ रहे पानी के कारण स्टॉपडेम का जलस्तर बढऩे लगा है।

अभी गर्मी का मौसम पूरी तरह से आया भी नहीं है, लेकिन शहर में जलसंकट का दौर प्रारंभ हो गया है। शहर के चाणक्यपुरी, अवधपुरी क्षेत्र में लोग अभी से टैंकरों के सहारे दिखाई देने लगे है। यहां के अधिकांश बोरबेल का जलस्तर नीचे चला गया है, हैण्डपंप भी हिचकियां लेने लगे है। यह क्षेत्र हर साल गर्मीयों के मौसम में टैंकरों के भरोसे हो जाता है। इस वर्ष अच्छी बारिश होने के बाद भी पेयजल का संरक्षण नहीं हो पाने के कारण फरवरी महीने में ही जलसंकट सिर उठाने लगा है। लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के अनुसार शहर के कई क्षेत्रों का भूजल स्तर 45 मीटर से नीचे चला गया है। शहर के कई क्षेत्रों में हैण्डपंपों की राड़ बढ़ाने का काम नगर पालिका द्वारा किया जा रहा है। इधर शहर के सीवन नदी और टाउनहाल नाले को भी पाइप लाइन से पानी डालकर भरने के प्रयास हो रहे है।

यह भी पढ़े :
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ?भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???