Patrika Hindi News

मिलावट दिखे तो फोन पर दें जानकारी, करेंगे कार्रवाई

Updated: IST
बुधवार को एसडीएम राजकुमार खत्री ने कुछ ऐसे ही निर्देश तहसीलदार, पटवारी और आरआई को दिए हैं। एसडीएम ने निर्देश दिए हैं कि खाद्य एवं औषधि प्रशासन के साथ राजस्व अमला भी त्योहार पर मिलावट के कारोबार पर नजर रखे।

सीहोर. सिंथेटिक दूध और मावा में यूरिया खाद, कपड़े धोने का सोडा जैसे हानिकारक पदार्थ मिलाए जाते हैं। सिंथेटिक दूध और मावा के उपयोग से कैंसर और लीवर खराब होने का खतरा रहता है। सिंथेटिक मावा और दूध से बनी मिठाई बेचने की शिकायत मिलती है तो ठीक नहीं होगा। बुधवार को एसडीएम राजकुमार खत्री ने कुछ ऐसे ही निर्देश तहसीलदार, पटवारी और आरआई को दिए हैं। एसडीएम ने निर्देश दिए हैं कि खाद्य एवं औषधि प्रशासन के साथ राजस्व अमला भी त्योहार पर मिलावट के कारोबार पर नजर रखे। एसडीएम ने बताया कि मिलावटी सामग्री की उपभोक्ता उनके मोबाइल नंबर 9424696300 पर भी शिकायत कर सकते हैं।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???