Patrika Hindi News

वन विभाग ने स्थापना शाखा प्रभारी को थमाया शोकाज नोटिस

Updated: IST
तीन दिन काम करने के बाद नौकरी से हटाने का मामला

सीहोर। वन विभाग में एक युवक को तीन दिन नौकरी कराने के बाद उसे हटाने के मामले में वन विभाग ने स्थापना शाखा प्रभारी को नोटिस थमा दिया है।

सामान्य वन मंडल में वन रक्षक के पद पर राजगढ़ जिले के पचोर गांव कडियासांसी निवासी कुलदीप सिसोदिया को लिखित, साक्षात्कार और मेडिकल परीक्षा उत्तीर्ण होने के बाद नौकरी पर रखा गया था। कुलदीप ने वन मंडल में तीन दिन नौकरी भी की थी। इसी बीच उसे भर्ती रद्द होने का कहकर नौकरी से हटा दिया गया। युवक से कहा जा रहा है कि नियुक्ति भोपाल से स्थगित कर दी गई है। इस मामले में पीडि़त ने वन विभाग के स्थापना शाखा प्रभारी सुधीर दुबे पर आरोप लगाए हैं, जिसका कहना है कि बाबू द्वारा जानबूझकर नियुक्ति में देरी की और मेरे एक और साथी अनिल राजपूत जो हरदा का रहने वाला है उसके रुपए की मांग की गई थी। रुपए न देने पर हम दोनों की निुयक्ति में देरी की गई और इसके बाद हमें यह कहा गया कि यह भर्ती भोपाल से रद्द कर दी गई है। मामले में वन विभाग ने स्थापना शाखा प्रभारी सुधीर दुबे को शोकॉज नोटिस जारी कर पूछा है कि नियुक्ति में गड़बड़ी कैसे हुई है।

ये है मामला

वर्ष 2015 में व्यापमं ने वन विभाग के वनरक्षक पदों की भर्ती के लिए परीक्षा आयोजित की। इसमें राजगढ़ जिले के पचोर गांव कडियासांसी निवासी कुलदीप सिसोदिया ने लिखित, साक्षात्कार और मेडिकल परीक्षा उत्तीर्ण की थी। कुलदीप ने बताया कि उसे 8 जून 2017 को कार्यालय वनमंडल सीहोर द्वारा पत्र क्रमांक/स्था/46 8 8 डाक द्वारा मिला था। इसमें बताया गया था कि व्यापम परीक्षा 2015 में सफल उम्मीदवारों की प्रतीक्षा सूची-3 के अनुसार आपकी नियुक्ति वनरक्षक पद पर किए जाने के संबंध में 15 जून 2017 से पूर्व कार्यालय वनमंडल सीहोर में उपस्थिति दें। वन सरंक्षक मनोज अर्गल के निर्देश पर कुलदीप ने सीहोर रेंज में 27, 28 और 29 जून को वनरक्षक के पद पर नौकरी भी की थी। इस दौरान 29 जून को उससे बोल दिया गया कि तुम्हारी नियुक्ति में कुछ दिक्कत आ रही है भोपाल से इस पद को रद्द कर दिया गया है।

मामले को एक साल बीत गया है। भोपाल कार्यालय से मार्गदर्शन मांगा गया है। भोपाल से स्पष्ट रूप से जवाब नहीं आया है। पूरे मामले में स्थापना शाखा प्रभारी सुधीर दुबे को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है। मामले में जांच कर दोषी को निलंलित किया जाएगा। मनोज अर्गल, वन सरंक्षक, सीहोर

अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???