Patrika Hindi News

> > > > Workshop on child labor and child rights

बच्चों का शोषण रोकना समाज के हर वर्ग की जिम्मेदारी

Updated: IST sehore
बाल श्रम और बाल अधिकार पर आयोजित कार्यशाला में संयुक्त कलेक्टर ने कहा

सीहोर। मध्यप्रदेश मानव अधिकार आयोग के स्थापना दिवस पर गुरुवार को जिला पंचायत कार्यालय के सभाकक्ष में बालश्रम एवं बाल अधिकार विषय पर जागरूकता कार्यक्रम कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यशाला में संयुक्त कलेक्टर नरोत्तम भार्गव मुख्य आतिथ्य के रूप में उपस्थित थे। कार्यशाला की अध्यक्षता बाल कल्याण समिति सीहोर के अध्यक्ष ब्रिजेश चौहान ने की।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मुख्य अतिथि संयुक्त कलेक्टर भार्गव ने कहा कि पाबंदियों के बाद भी बच्चें जगह-जगह काम करते दिखाई देते हैं। इन बच्चों का बचपन बचाने की जिम्मेदारी हम सब की है। ऐसे बच्चों के परिजन को समझाईश देने के साथ ही बच्चों की शिक्षा के उचित इंतजाम कर बालश्रम को रोका जा सकता है। कार्यशाला में बाल कल्याण समिति के अध्यक्ष ब्रजेश चौहान ने जागरुकता कार्यक्रम की प्रशंसा करते हुए ऐसे आयोजन लगातार किए जाने पर बल दिया। आयोजन को संयोजक बीपी खरे,आयोग सदस्य रामस्वरूप सिंह, संदीप कुमार, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता उषा राठौर, आदि ने भी संबोधित किया। मानवाधिकार आयोग द्वारा प्रकाशित बाल श्रम व बाल अधिकार पुस्तिका का कार्यक्रम के दौरान वितरण किया गया।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे