Patrika Hindi News

> > > > Farmers said the water should not assured

किसानों ने कहा आश्वासन नही पानी चाहिए 

Updated: IST patrika
चांदनी चौक पर बैठे किसानों के आंदोलन की जानकारी जैसे ही प्रशासन को लगी सिंचाई विभाग के कार्यपालनयंत्री राम एस शर्मा व एसडीओ आरएस शर्मा दोनों अधिकारी धरनास्थल पर पहुंचे।

सिवनी. किसान इन दिनों पानी को लेकर खासा परेशान है तो दूसरी तरफ सिंचाई विभाग के आला अधिकारियों को किसानों की समस्या से कोई वास्ता ही नहीं है जिसके कारण किसानों के सामने आगामी रबी की फसलों के नष्ट होने का खतरा मंडराने लगा है। बुधवार को विभाग की उदासीनता के कारण किसान सड़कों पर उतर आए।

किसानों का कहना है कि आगामी फसलों के लिए पलेवा का पानी चाहिए। इसके पहले किसानों ने प्रशासन को एक ज्ञापन सौंपकर दो दिन की समय सीमा भी तय कर दी थी लेकिन पानी न मिलने से गुस्साए किसान बुधवार को सड़क पर उतर आए।

केवलारी नगर के चांदनी चौक पर बुधवार को क्षेत्र के किसानों ने धरना प्रदर्शन आंदोलन कर हड़ताल पर बैठ गए। चांदनी चौक पर बैठे किसानों के आंदोलन की जानकारी जैसे ही प्रशासन को लगी सिंचाई विभाग के कार्यपालनयंत्री राम एस शर्मा व एसडीओ आरएस शर्मा दोनों अधिकारी धरनास्थल पर पहुंचे। जहां घंटो किसानों के साथ चर्चाएं हुई। कार्यपालन अधिकारी राम एस शर्मा का कहना था कि हम आपको आश्वासन दे रहे हैं कि कुछ दिन बाद आपको खेती के लिए पानी दे दिया जाएगा लेकिन किसान कह रहे थे कि हमें आश्वासन नहीं पानी चाहिए। जिससे हम अपनी फसल लगा सकें। बड़ी जददोजहद के बाद कार्यपालनयंत्री शर्मा ने एक लिखित पत्र दिया गया कि जल प्रदाय हेतु पांच दिसंबर के पहले किसानों को पानी दे दिया जाएगा। वहीं दूसरी तरफ जल उपभोक्ता संथा के अध्यक्ष अरूण चौरसिया ने बताया कि अगर सिंचाई विभाग के अधिकारियों ने किसानों को समय पर पानी नहीं दिया तो वे उग्र आंदोलन करेंगे।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!

Latest Videos from Patrika

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???