Patrika Hindi News

कम्पनी ने मांगे लाखों रुपए, तो छोड़ा खाना-पानी

Updated: IST bijli office
अनशनकारियों का डॉक्टर ने किया चैकअप, बिजली बिल का 1.92 लाख रुपए बकाया

सिवनी. विकासखण्ड घंसौर के अन्तर्गत ग्राम बम्हनी व सिंगारपुर में लगा ट्रांसफार्मर खराब होने के कारण गांव की बिजली गुल है। बिजली नहीं होने से परेशान दो गांव के ग्रामीण ने खाना-पीना छोड़कर भूख हड़ताल पर बैठ गए हैं।

ग्रामीणों ने बताया कि विद्युत वितरण कम्पनी के अधिकारियों, कर्मचारियों द्वारा खराब ट्रांसफार्मर नहीं बदले जाने से लोगों में आक्रोश व्याप्त है। परेशान ग्रामवासी बुधवार से भूख हड़ताल पर बैठे हैं।

ये हैं हड़ताल पर

पिछले कई दिनों से दो गांव की बत्ती गुल होने से ग्रामवासियों का कामकाज बुरी तरह से ठप हो गया है। नलजल योजना ठप हो गई है। आटा चक्की बंद पड़ी है। लोगों के पिसाई, बिजली संबंधी अन्य कार्य नहीं हो पा रहे हैं। गांव में बिजली व्यवस्था हो इसके लिए गांव के संतर बलारी, देवी सिंह, भैया लाल तेकाम, गंर्धव शाह मरावी, अजब सिंह परते, नारायण, शैलेन्द्र भूख हड़ताल पर बैठे हैं।

डॉक्टर ने किया चेकअप

भूख हड़ताल पर बैठे ग्रामीणों में संतर बलारी की तबीयत ज्यादा खराब होने पर डॉक्टर समीर सरोते ने संतर का स्वास्थ्य परीक्षण किया।

पहले करें भुगतान

इस मामले में बिजली अधिकारियों ने बताया कि दोनों गांव का कुल 1,92,475 रुपए बकाया है। जिसमें ग्राम बम्हनी का बिल 1,36,810 रुपए और ग्राम सिंगापुर का 55,665 रुपए बिजली बिल का बकाया है। ग्रामीणों ने यह बिल जमा नहीं किया है जिसके कारण गांव की बिजली काट दी गई है। ग्रामवासी मिलकर बिजली बिल का कुल बकाए राशि का आधा बिल भी जमा कर देते हैं तो गांव की बिजली चालू कर दी जाएगी।

यह भी पढ़े :
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं? निःशुल्क रजिस्टर करें ! - BharatMatrimony
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???