Patrika Hindi News

> > > > people jam highway in anger of non withdrawal money

रुपए निकालने में असफल लोगों ने वीरपुर में हाईवे किया जाम

Updated: IST people jam highway
वीरपुर बैंक से लोगों को नहीं मिल पा रहा था पर्याप्त पैसा, स्थानीय स्टाफ बदलने सहित कैश बदलने की मांग को लेकर मुरैना श्योपुर हाईवे किया गया था जाम

श्योपुर । . नोटबंदी से बढ़ी परेशानियां अभी थमने का नाम नहीं ले रही हैं, एक तो बैंकों से लोगों को पर्याप्त मात्रा में कैश न होने के चलते वैसे ही रुपए उपलब्ध नहीं हो पा रहे हैं, वहीं नवंबर माह समाप्त हो जाने से बैंकों पर सैलरी और पेंशन के लिए भी लोगों की भीड़ उमडऩे लगी है। जिसकरण से लोगों को कतार में लगने पर भी कैश नहीं मिल पा रहा है।

यही वजह है कि अब अब लोगों को धैर्य जवाब देने लगा है और वह बैंकों की मनमानियों के खिलाफ जाम जैसी राह पकडऩे को विवश हो रहे हैं, गुरुवार को श्योपुर के वीरपुर कस्बे में यूनियन बैंक की वीरपुर शाखा से रुपए न मिलने से आजिज आए लोगों ने श्योपुर मुरैना हाईवे पर जाम लगा दिया। जो शाखा में मांग के लिहाज से पर्याप्त करेंसी की उपलब्धता कराने तथा बैंक शाखा में पदस्थ स्थानीय के स्टाफ को हटाए जाने की मांग अगले दो तीन दिन में पूरी होने के एसडीएम विजयपुर लोकेश कुमार जांगिड के आश्वासन पर तीन घंटे बाद खोला गया। इसदौरान हाईवे के दोनों ओर वाहनों की लंबी लंबी कतारें लग गईं, जिनमें सवार सवारियों को भी परेशानी का शिकार होना पड़ा।

दो दिन में मिलेगी करेंसी, बदलेगा स्टाफ

नोट न मिलने से परेशान लोगों द्वारा लगाए गए जाम को विजयपुर एसडीएम लोकेश कुमार जांगिड ने पहुंचकर खुलवाया। इसदौरान उन्होंने ग्रामीणों की शिकायत पर बैंक शाखा में पदस्थ लोकल के दो कर्मचारियों को यूनियन बैंक के भोपाल स्थित वरिष्ठ कार्यालय के अफसरों से बदले जाने की बात कर, दो दिन के भीतर हटाए जाने का आश्वासन दिया। वहीं बैंक में मौजूद करेंसी की किल्लत की निजात के लिए भी लीड बैंक शाखा श्योपुर और यूनियन बैंक की भोपाल शाखा से 20-20 लाख रुपए की राशि अगले दो दिन में वीरपुर पहुंचाए जाने की बात कर लोगों को आश्वासन दिया। ताकि जरूरतमंदों को रुपए मिल सकें। याद रहे कि वीरपुर तहसील के अंतर्गत 50 करीब गांव आते हैं और इन 50 गांव में महज वीरपुर की यह एक ही बैंक संचालित है। जिसकारण से हजारों लोग इसी बैंक पर नोट जमा करने और आहरित करने को विवश बने हुए हैं।

अंचल की बैंक और पोस्ट आफिसों में कैश अभाव

नोटबंदी के आज 23 दिन बाद भी अंचल में लोगों को कैश उपलब्ध नहीं हो पा रहा है। ढोढर, गसवानी, कराहल, सोंईकला सहित अन्य स्थानों की पोस्ट आफिसों से लोग जरूरत बाद भी कैश अभाव में रुपए नहीं निकाल पा रहे हैं, जिसकारण से अंचल में लोगों को और अधिक दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!

Latest Videos from Patrika

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???