Patrika Hindi News

अब फिर पुलिस अधिकारियों की गाडिय़ों पर लगेंगी बत्तियां, ये हुए हैं बदलाव

Updated: IST lal pili batti
अब पुलिस अधिकारियों के वाहनों में फिर से बत्ती लगी नजर आएगी। ऐसा इसलिए कि परिवहन मंत्रालय ने वाहनों पर बत्तियां लगाने को लेकर पिछले नियम में संशोधन कर दिया है।

श्योपुर।अब पुलिस अधिकारियों के वाहनों में फिर से बत्ती लगी नजर आएगी। ऐसा इसलिए कि परिवहन मंत्रालय ने वाहनों पर बत्तियां लगाने को लेकर पिछले नियम में संशोधन कर दिया है। जिसके तहत थानेदार से लेकर आईजी तक के वाहन को बत्तियां लगाई जा सकेगी। इन पुलिस अधिकारियों के वाहनों पर लाल, नीला, सफेद रंग की बत्तियां लगेंगी। तीनों कलर की बहुरंगीय बत्ती से पुलिस वाहनों की पहचान करने में भी लोगों को मदद मिलेगी।

कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए भी इसे जरूरी समझा गया है। इसलिए परिवहन मंत्रालय ने संशोधन में इस बार भी फायर ब्रिगेड और एम्बुलेंस को बत्ती के दायरे से बाहर रखा है। अधिकृत मंजूरी मिलने के साथ ऐसे वाहनों पर आरटीओ की ओर से जारी परमिशन को अधिकारी वाहन के कांच पर चस्पा करके रखेंगे। परिवहन विभाग ने आदेश के बाद थाना क्षेत्रों के वाहनों की सूची बनाना शुरू कर दी है। संख्या संबंधी जानकारी शासन को भेजना है।

दरअसल केंद्र सरकार द्वारा व्हीआईपी कल्चर को खत्म करते हुए मंत्रियों सहित अन्य श्रेणी के वाहनों की बत्तियां हटा दी गई थी। मोदी सरकार के इस आदेश के बाद प्रदेश सरकार अपने मान से संशोधन कर नियम लागू करती रही है। डेढ़ माह पहले प्रदेश सरकार ने तमाम विभागों से बत्तियां हटाने को लेकर नोटिफिकेशन जारी किया था। अब फिर बदलाव करते हुए केवल गृह विभाग जिसमें पुलिस वाहन आते हैं,को ही मंजूरी दी है।

सड़क परिवहन व राजमार्ग मंत्रालय नई दिल्ली द्वारा जारी अधिसूचना के बाद प्रदेश शासन ने संशोधन के साथ कार्यालय ड्यूटी वाले पुलिस वाहनों में लाल,नीली और सफेद रंग की बहुरंगीय बत्ती का उपयोग करने का कहा है। इस तरह की शुरुआत डॉयल 100 जैसे वाहन में हो चुकी है। ठीक इसी तरह की बत्तियां अब पुलिस अधिकारी लगा सकेंगे।

इनके वाहनों में लगाई जा सकेंगी
रेंज उप पुलिस महानिरीक्षक, जोनल पुलिस महानिरीक्षक, एसपी, एएसपी, एसडीओपी, सीएसपी, पुलिस थानों में कानून व्यवस्था से जुड़े वाहन। पुलिस कंट्रोल रूम का वाहन,डॉयल 100 आदि वाहन शामिल किए हैं। इन पर परिवहन विभाग की ओर से निर्धारित प्रारूप में पेपर जारी होगा। इसे वाहनों के विंड स्क्रीन पर लगाना अनिवार्य होगा। आदेश की प्रति के बिना बत्ती नहीं लगाई जा सकेगी।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???