Patrika Hindi News

MP में यहां हो रही प्रदेश की पहली शाही शादी, दावत में शामिल होंगे 70 हजार मेहमान

Updated: IST Community marriage in singrauli
2700 बेटियों का कन्यादान करेंगे सीएम, 22 मई को सिंगरौली जिले में आयोजन, तैयारियां युद्धस्तर पर जारी।

सिंगरौली। प्रदेश में पहली बार एक साथ 2700 कन्याओं का मुख्यमंत्री कन्यादान योजना के तहत सामूहिक विवाह होने जा रहा है। इससे पहले 2200 कन्याओं के विवाह का रिकार्ड प्रदेश का रहा है। इस रिकॉर्ड को पार करते हुए प्रदेश में पहले स्थान पर सिंगरौली का नाम अंकित होने जा रहा है। इस शुभ मुहूर्त पर गरीब बेटियों का कन्यादान मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान करेंगे।

एनसीएल ग्राउण्ड बिलौंजी में 22 मई को जिला स्तर पर होने वाले सामूहिक विवाह कार्यक्रम की तैयारियां युद्धस्तर पर जारी हैं। एक माह पहले इस आयोजन की रूपरेखा बनी थी जिसके बाद से जिला प्रशासन सहित सभी विभाग तैयारियों में जुटे हैं।

17000 रुपए कन्या के बैंक खाते में

सामूहिक कन्या विवाह के 2700 पंजीयन हो चुके हैं। विवाह उपरांत शासन द्वारा 17000 रुपए कन्या के बैंक खाते में भेजने एवं उपहार गैस कनेक्शन, स्मार्ट फोन की राशि साथ ही पात्र जोड़ों को शौचालय निर्माण कराए जाने की स्वीकृति का प्रमाण पत्र मौके पर ही उपलब्ध कराए जाएंगे। शाही शादी का अंदाजा इससे लगा सकते हैं कि यहां गरीब बेटियों को मंगलसूत्र, पायल और पाजेब तो दी ही जा रही है, पूरे कार्यक्रम पर 10 से 12 करोड़ रुपए खर्च होने का अनुमान है। एक करोड़ करीब पंडाल सजाने में ही खर्च हो रहे हैं।

70 हजार लोगों की भोजन व्यवस्था

सामूहिक विवाह के लिए 2700 जोड़ों का पंजीयन किया जा चुका है। जोड़ों के साथ उनके परिजनों व आने वाले बारातियों तथा घरातियों के लिए गुणवत्तायुक्त भोजन की व्यवस्था की जाएगी। जिसमें लगभग 70 हजार से अधिक लोगों को सहभोज कराया जाएगा। जिसकी व्यवस्था को कंट्रोल रूम व सहायता केन्द्र भी बनाए जाएंगे। पर्यटन विभाग ने इसकी जिम्मेदारी ली है।

गाइड करेंगे पथ प्रदर्शक

ग्राम पंचायतों में निर्धारित स्थलों में जिला प्रशासन द्वारा जोड़ों को लाने ले जाने के लिए वाहनों की व्यापक व्यवस्था करत हुए प्रत्येक वाहन में गाइड की नियुक्ति की गई है। जो निर्धारित स्थल से पंजीकृत जोड़ों को सामूहिक विवाह स्थल पर लाने के साथ पुन: उन्हें निर्धारित स्थल तक पहुंचाएगा।

मौके पर मिलेंगे प्रमाण पत्र

वहीं सामूहिक विवाह सम्पन्न होने के पश्चात समारोह स्थल पर ही जोड़ों को वैवाहिक प्रमाण पत्र प्रदान करते हुए अपने आवास पर पांच पौधे लगाने के लिए प्रेरित किया जाएगा।

दो दर्जन चिकित्सक रहेंगे तैनात

एनसीएल ग्राउण्ड बिलौंजी में सामूहिक विवाह के अवसर पर चिकित्सकों की टीम कैम्प में रहेगी ताकि आवश्यकतानुसार मौके पर ही चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराई जा सके। एंबुलेंस सेवा भी मुहैया कराई जाएगी।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???