Patrika Hindi News

तिहरे हत्याकांड में मो. शहाबुद्दीन अदालत से बरी

Updated: IST Shahabusseen
सोमवार को अदालत ने तिहरे हत्याकांड की सुनवाई करते हुए पूर्व सांसद शहाबुद्दीन को बड़ी राहत प्रदान की है...

सीवान। सोमवार को अदालत ने तिहरे हत्याकांड की सुनवाई करते हुए पूर्व सांसद शहाबुद्दीन को बड़ी राहत प्रदान की है। तीहरे हत्याकांड में जमशेदपुर के एडीजे 4 अजीत कुमार सिंह की अदालत ने शहाबुद्दीन को बरी कर दिया है।

तिहाड़ से वीडियो कांफ्रेंसिंग में पेशी शहाबुद्दीन तिहाड़ जेल से वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से कोर्ट में पेश हुआ। 10 मिनट तक शहाबुद्दीन ऑन लाइन मौजूद रहा। तीन लोगों की हत्या के मामले में अदालत में कुल नौ गवाह पेश हुए थे। मामला 25 साल पुराना है।

गौरलतब हो कि 02 फरवरी 89 की शाम 7.30 बजे जुगसलाई में तत्कालीन युवा कांग्रेस के जिला अध्यक्ष प्रदीप मिश्रा, जनार्दन चौबे व आनंद राव की गोली मारकर हत्या की गई थी। प्रदीप मिश्रा के अंगरक्षक ब्रह्मेश्वर पाठक ने केस दर्ज कराया था। इसमें मो. शहाबुद्दीन, रामा सिंह, साहेब सिंह, कल्लु सिंह व पारस सिंह समेत अन्य को आरोपी बनाया गया था।

कोर्ट ने इस मामले में रामा सिंह सहित अन्य सभी को बरी कर दिया था लेकिन शहाबुद्दीन के पेश नहीं होने के कारण उनके खिलाफ मामला लंबित रह गया। इसी मामले के आरोपी साहेब सिंह को बिहार के रोहतास में पुलिस ने मुठभेड़ में मार दिया था, जबकि बीरेन्द्र सिंह की उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ में हत्या हो चुकी है। बचाव पक्ष के अभिवक्ता जी बराट बाबला ने कहा, जेल से शहाबुद्दीन बाहर निकले और बाद में अदालत ने उन्हें बरी किया। कई बार शहाबुद्दीन को जमशेदपुर की अदालत में लाने की कोशिश की गई थी।

यह भी पढ़े :
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं? निःशुल्क रजिस्टर करें ! - BharatMatrimony
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???