Patrika Hindi News

6 साल की बच्ची से टीचर रोज करता था अश्लील हरकत, फिर...

Updated: IST teacher eve teasing student
सोनभद्र के राबर्ट्सगंज में स्कूल में पढ़ने वाली बच्चियों ने अध्यापक द्वारा अश्लील हरकत करने की बात बताई जिसके बाद...

सोनभद्र. अध्यापक को समाज का निर्माता कहा जाता है और इसीलिए उन्हें बहुत ही सम्मान मिलता है । लेकिन जब अध्यापक ही अज्ञानता के अंधकार में डूब कर शर्मसार करने वाले घृणित कार्य करने लगे तो फिर समाज इसके लिए उसे उचित सजा भी देता है।

ऐसा ही जीता जागता उदारहण देखने को मिला जब सोनभद्र के राबर्ट्सगंज कोतवाली इलाके के नगर में स्थित एक निजी कान्वेंट स्कूल के कक्षा एक की छात्रा ने विद्यालय के ही एक अध्यापक पर छेड़खानी का आरोप लगाया। मामले का खुलासा उस समय हुआ जब एक 6 वर्ष की बालिका ने अपने अभिवावकों से स्कूल के ही एक अध्यापक पर प्रतिदिन छेड़खानी करने की बात बताई।

अच्छी शिक्षा मिलने की जगह अपने बच्चो के साथ शोषण की बात सुनकर अभिवावक हैरत में पड़ गए और स्कूल की ही दूसरी पढ़ने वाली बालिकाओं से इसके बारे में पूछा तो एक एक करके कुल 5 बच्चियों ने अध्यापक द्वारा अश्लील हरकत करने की बात बताई।

अपने बच्चो को अच्छी पढ़ाई मिलने की जगह ऐसा घृणित कृत्य होता सुनकर अभिवावक भड़क गए और स्कूल पंहुच कर उक्त अध्यापक से इसके बारे में पूछा तो उक्त अध्यापक उल्टा अभिवावकों पर आरोप लगाने लगा जिसपर गुस्से में आये अभिवावकों ने उसकी पिटाई कर दी।

मौके पर स्कूल में विवाद होता देख प्रबंधक ने पुलिस को सूचना दी जिस पर मौके पर पहुंची पुलिस ने अभिभावकों को ही अध्यापक के साथ मारपीट करने के लिये उल्टा जेल में डालने की धमकी देनी शुरू कर दी। अपने बच्चो के शोषण के बाद पुलिस की धमकी से बेचैन अभिवावकों ने विधायक अविनाश कुशवाहा से मामले की शिकायत की। जिस पर तत्काल संज्ञान लेते हुए विधायक ने पुलिस के उच्चाधिकारियों को मामले से अवगत कराया और दोषियों पर कार्यवाही करने की बात कही तब जाकर अभिवावकों की शिकायत पर पुलिस ने छेड़खनी के मामले में अध्यापक को हिरासत में लेकर उसके ऊपर भारतीय दण्ड संहिता की धारा 354 और पास्को एक्ट के तहत मुक़दमा दर्ज कर चालान कर दिया ।

यह भी पढ़े :
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मॅट्रिमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???