Patrika Hindi News

LoC पार करने वाला भारतीय जवान रिहा, PAK ने लगाया ये आरोप 

Updated: IST Indian soldier Chandu Babulal Chavan to release by
पाकिस्तान ने यह आरोप भी लगाया कि "चंदू सीनियर अफसरों के गलत बर्ताव से नाराज होकर एलओसी पार चला आया था।"

इस्लामाबाद/नई दिल्ली. पिछले साल सर्जिकल स्ट्राइक के कश्मीर में गलती से नियन्त्रण रेखा पार करने वाले भारतीय जवान चंदू बाबू चव्हाण को पाकिस्तान ने रिहा कर दिया है। शनिवार को वाघा बॉर्डर पर पाकिस्तानी अफसरों ने उसे भारत को सौंपा।हालांकि इससे पहले पाकिस्तान ने आरोप लगाया कि चंदू अपने अफसर के खराब बर्ताव की वजह से सीमा पार कर पाकिस्तान में पहुंच गया और खुद को पाकिस्तान में सरेंडर कर दिया था।

रिपोर्ट्स के मुताबिक़ चंदू को दोपहर के वक्त वाघा बॉर्डर पर भारत को सौंपा गया। वह पिछले साल सर्जिकल स्ट्राइक के बाद 29 सितंबर 2016 को सीमा पार कर गया। रिहाई से पहले पाकिस्तान में उसका मेडिकल चेकअप हुआ। उसे सारे सामान के साथ भारत को सौंपा गया। रिहाई पर चंदू के घरवाले खुश हैं। उसके भाई ने विदेश मंत्रालय का शुक्रिया अदा किया है।

पाकिस्तान ने लगाए आरोप

इससे पहले शनिवार को इंटर सर्विसेज पब्लिक रिलेशंस (आईएसपीआर) ने एक प्रेस रिलीज जारी कर चंदू के रिहाई की अनाउंसमेंट की। इसमें कहा गया, "सैनिक (चंदू) अपने देश में लौटने के लिए राजी हो गया है। वह अपनी पोस्ट पर कमांडर के बर्ताव के कारण जानबूझ कर नियंत्रण रेखा पार गया था।" हालांकि इससे पहले अपने कब्जे में चंदू के होने की बात से भी पाकिस्तान ने इनकार किया था।

कौन है चंदू बाबू चव्हाण ?

चंदू बाबू 37 राष्ट्रीय राइफल का जवान है। उसकी उम्र 22 साल है। वह महाराष्ट्र के धुलिया जिले के बोरविहीर गांव का है। सर्जिकल स्ट्राइक के दौरान वह कश्मीर में नियंत्रण रेखा पर तैनात था। चंदू का गांव भारत के रक्षा राज्य मंत्री के निर्वाचन क्षेत्र में ही है।

रिहाई के लिए प्रयास में था भारत

चंदू की रिहाई के लिए हाल ही में दोनों देशों के डीजीएमओ स्तर की बातचीत हुई थी। इसकी जानकारी खुद रक्षा राज्य मंत्री सुभाष भामरे ने दी थी। पिछले साल 29 सितंबर को सर्जिकल स्ट्राइक के दिन चंदू के LoC पार चले जाने की खबरें सामने आई थीं। तब भारतीय सेना ने पाकिस्तानी सेना के DGMO को इस बात की जानकारी दी थी।

पाकिस्तान ने कर दिया था इनकार
हालांकि बाद में कुछ रिपोर्ट्स में पाकिस्तानी सेना ने चंदू के पकड़े जाने की बात से इनकार कर दिया था। चंदू के पाकिस्तान चले जाने की खबर जानने के बाद उसकी दादी की मौत हो गई थी। चंदू महाराष्ट्र का है।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???