Patrika Hindi News

अब स्मार्टफोन से कर सकेंगे कई बीमारियों की जांच 

Updated: IST shwetak patel develop medical test app
सेनोसिस हेल्थ स्टार्टअप के फाउंडर व भारतीय मूल के अमरीकी प्रोफेसर श्वेतक ने एक ऐसा स्मार्टफोन एप विकसित किया है, जिसकी मदद से कई बीमारियों की जांच की जा सकती है।

स्वास्थ्य सेवाओं से दूर गांवों के लिए यह किसी वरदान से कम नहीं है। तकनीकी स्टार्टअप के फाउंडर श्वेतक एन. पटेल ने अपने ताजा स्टार्टअप 'सेनोसिस हेल्थके तहत एक ऐसा एप विकसित किया है, जिसकी मदद से कोई भी व्यक्ति घर बैठे स्मार्टफोन के जरिये हेल्थ चेकअप कर सकता है। इस एप से आमजनों को जांच घरों का चक्कर लगाने से मुक्ति तो मिलेगी ही, साथ में त्वरित रिपोर्ट भी मिल जाएगी। अभी तक डायबिटीज या बीपी जैसी बीमारियों की जांच के लिए ही तकनीकी संसाधन मौजूद थे।

जांच पर खर्च कम
कई बीमारियों के जांच परीक्षण में आने वाला खर्च भी बच जाएगा। स्मार्टफोन में यह सुविधा हो जाने से अब अलग-अलग जांच के लिए अलग-अलग उपकरण भी नहीं खरीदना होगा।

सुदूर गांव के लिएवरदान
ऐसे सुदूर गांव, जहां स्वास्थ्य सेवा अभी तक नहीं पहुंची है, वहां के लिए यह वरदान ही है। फोन का माइक्रोफोन स्पाइरोमीटर से रिप्लेस कर फेफड़े की गतिविधियों की माप की जा सकती है, जो अस्थमा, सिस्टिक फाइब्रोस, प्यूलमोनरी जैसी बीमारियों का पता लगा लेता है। स्मार्टफोन के कैमरे के माध्यम से हीमोग्लोबीन की मात्रा मापी जा सकती है। जिससे शिशुओं को अक्सर हो जाने वाली बीमारी पीलिया का पता लगाया जा सकता है। ट्रांसमिट टाइम एनालिसिस के इस्तेमाल से इससे ब्लड प्रेशर भी मापा जा सकता है। इसके अलावा कई अन्य बीमारियों की जांच करने में यह सक्षम है।

कौन हैं श्वेतक पटेल
भारतीय मूल के ३५ वर्षीय श्वेतक एन. पटेल जॉर्जिया इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी से कंप्यूटर साइंस में पीएचडी व यूनिवर्सिटी ऑफ वॉशिंगटन में इलेक्ट्रिकल व कंप्यूटर इंजीनियरिंग के प्रोफेसर हैं। वह यूनिवर्सिटी ऑफ ग्लोबल इनोवेशन एक्सचेंज के सीटीओ व डायरेक्टर भी हैं। ह्युमन-कंप्यूटर इंटरएक्शन, सेंसर आधारित सिस्टम और यूजर इंटरफेस सॉफ्टवेयर एंड टेक्नोलॉजी उनके अध्ययन के खास विषय हैं। वह दुनियाभर में भौगोलिक दशाओं के अधीन संसाधनों को स्वास्थ्य समाधान मुहैया कराना चाहते हैं।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मॅट्रिमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !
LIVE CRICKET SCORE

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???