Patrika Hindi News

> > > > Surajpur : Trailer collision killed the villager then bike burnt them

Photo Icon सड़क किनारे खड़े ग्रामीण को ट्रेलर ने मारी टक्कर तो Bike ने किया खाक

Updated: IST Burn Trailer
गंभीर रूप से घायल बाइक सवार ग्रामीण को रायपुर किया गया रेफर, एक किमी तक घीसटती चली गई ट्रेलर में फंसी बाइक फिर लग गई थी आग

बिश्रामपुर. बिश्रामपुर-अंबिकापुर मार्ग पर ग्राम अजबनगर के पास सड़क किनारे खड़े बाइक सवार ग्रामीण को कोयला लोड टे्रलर ने गुरुवार की सुबह अपनी चपेट में ले लिया। इससे ग्रामीण गंभीर रूप से घायल हो गया। उसे इलाज के लिए रायपुर रेफर किया गया है। इधर टक्कर के बाद बाइक ट्रेलर में फंस गई और 1 किमी तक घिसटती चल गई।

इसी दौरान सड़क पर रगड़ खाने से बाइक में आग लग गई और उसने ट्रेलर को भी चपेट मेें ले लिया। आग से ट्रेलर भी पूरी तरह से जलकर खाक हो गई। इस बीच चालक व खलासी वहां से फरार हो गए। इधर घटना की सूचना मिलते ही परिजन व ग्रामीण वहां पहुंचे। वे चक्काजाम की तैयारी कर रहे थे, लेकिन वहां पहुंची पुलिस ने उन्हें रोक दिया। परिजन नौकरी व मुआवजे की मांग पर अड़े थे।

burnt trailer

सूरजपुर जिले के ग्राम संजयनगर, अजबनगर निवासी प्रणय हालदार पिता मोजू हालदार 40 वर्ष अपने चाचा के घर से बाइक पर सवार होकर सुबह 7 बजे निकला था। वह बिश्रामपुर-अंबिकापुर मार्ग पर अजबनगर के समीप सड़क किनारे बाइक खड़ी कर किसी का इंतजार कर रहा था।

इसी दौरान अमेरा खदान से कोयला लोड कर कमलपुर साइडिंग जा रहे ट्रेलर क्रमांक सीजी 15 एसी-4556 के चालक ने दूसरे वाहन को ओवरटेक करने के चक्कर में उसे अपनी चपेट में ले लिया। टक्कर से ग्रामीण वहीं फेंका गया और ट्रेलर का पहिया उसके दोनों पैरों को रौंदते हुए निकल गया। हादसे में युवक के सिर सहित शरीर के अन्य हिस्से में भी चोटें आईं।

उसे आस-पास के लोगों द्वारा तत्काल जिला अस्पताल ले जाया गया। यहां उसकी गंभीर स्थिति को देखते हुए डॉक्टरों ने उसे रायपुर रेफर कर दिया। हादसे के बाद ट्रेलर चालक वाहन लेकर भाग रहा था लेकिन ग्रामीण की बाइक उसके अगले हिस्से में फंस गई। वह बाइक को करीब 1 किलोमीटर तक घसीटता हुआ हुआ ले गया।

इस दौरान रगड़ से बाइक में आग लग गई। आग की लपटों ने ट्रेलर को भी चपेट में ले लिया। यह देख चालक व खलासी अजबनगर स्कूल के समीप वाहन खड़ा कर फरार हो गए। इधर आग से थोड़ी ही देर में ट्रेलर पूरी तरह जलकर खाक हो गया। बाद में अंबिकापुर से आए दमकलकर्मियों ने आग पर काबू पाया।

पुलिस ने विफल किया चक्काजाम

घटना को देखते हुए वहां का माहौल तनावपूर्ण हो गया था और घायल के परिजन व ग्रामीण चक्काजाम की तैयारी करने लगे। वे सड़क जाम करने ही वाले थे कि जयनगर थाना प्रभारी तेजनाथ सिंह, बिश्रामपुर थाना प्रभारी सुनील तिवारी, एसआई रवि सिंह बिसेन, एएसआई सरफराज फिरदौसी व मनोज सिंह अन्य पुलिसकर्मियों के साथ मौके पर पहुंच गए। उन्होंने ग्रामीणों को समझाइश देकर चक्काजाम न करने की सलाह दी।

नौकरी व मुआवजे की मांग

घायल अपने घर का इकलौता कमाऊ सदस्य है, वह मजदूरी कर अपने परिवार का पेट पालता था। उसके 6 व 8 साल के दो बेटे व एक बेटी है। हादसे में उसके दोनों पैर बूरी तरह से कुचल गए हैं। ऐसे में परिवार के समक्ष रोजी-रोटी की समस्या आ खड़ी हुई है। घायल के परिजनों ने प्रशासन से कोल कंपनी से परिवार के एक सदस्य को नौकरी व उचित मुआवजा दिए जाने की मांग की है। दुर्घटनाकारी ट्रेलर सूरजपुर जिला पंचायत सदस्य नरसिंह नारायण सिंह की बताई जा रही है।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे