Patrika Hindi News

पोता पूरा कर रहा है दादा का अधूरा ख्वाब

Updated: IST surat
चित्रकार दादा के अधूरे सपने को पूरा करने के इरादे से उनका पोता साइंस सेंटर में शुक्रवार से तीन दिवसीय चित्र

सूरत।चित्रकार दादा के अधूरे सपने को पूरा करने के इरादे से उनका पोता साइंस सेंटर में शुक्रवार से तीन दिवसीय चित्र प्रदर्शनी का आयोजन करेगा। इसमें उनके 55 चित्र प्रदर्शित किए जाएंगे। बेगमपुरा चेवली स्ट्रीट निवासी किरीट एच.चेवली ने पत्रिका से बातचीत में बताया कि 14 साल की उम्र में उन्होंने यूं ही अपने मित्र का स्कैच बनाया, जिसकी लोगों ने खूब सराहना की। उसके बाद उन्होंने कुछ और चित्र बनाए, लेकिन उस समय पेशेवर चित्रकार नहीं बन पाए। बीएससी तक पढ़ाई के दौरान जब भी वक्त मिलता था, वह कैनवास पर अपनी कल्पनाओं को उकेरने में लग जाते थे। उनके कई बेहतरीन चित्र मित्र-परिचित ले गए।

आजीविका चलाने के लिए उन्हें बतौर शिक्षक, बैंकर काम करना पड़ा। समय के अभाव में उनका शौक छूट गया। फिर उन्होंने धीरे-धीरे टैक्सटाइल का कारोबार शुरू किया। अपने दोनों पुत्रों मनीष और विक्रम को कारोबार में शामिल किया। कारोबार से निवृत्त होने के बाद बीसीए कर रहे उनके पोते आरुष ने उन्हें फिर से चित्र बनाने के लिए प्रेरित किया। उन्होंने चित्र बनाना शुरू कर दिया। आरुष ने ही उनके अंदर छिपी कला को मंच मुहैया कराने के लिए साइंस सेंटर में प्रदर्शनी का आयोजन किया है। शुक्रवार को प्रदर्शनी का उद्घाटन उप महापौर शंकरलाल चेवली करेंगे।

कैलाश यात्रा में मिली दूसरी जिंदगी

किरीट ने मान सरोवर के कैलाश पर्वत का भी चित्र बनाया है। उन्होंने बताया कि 1998 में वह भारत सरकार की ओर से आयोजित कैलाश-मानसरोवर यात्रा पर गए थे। वहां से लौटते समय हिमस्खलन हुआ, जिसमें उनकी ग्रुप में शामिल अभिनेता कबीर बेदी की पत्नी डांसर प्रतिभा बेदी की मौत हो गई थी। दस दिन तक वहां फंसे रहने के बाद एयरफोर्स ने उन्हें हेलिकॉप्टर से निकालकर नया जीवन दिया।

अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???