Patrika Hindi News

मकर सक्रांति पर बनाएं ये खास व्यंजन, नहीं लगेगी सर्दी

Updated: IST til mawa bati
सर्दी भगाने और चेहरे पर ग्लो बढ़ाना चाहते हैं तो जरूर बना कर खाएं ये व्यंजन

मकर सक्रांति पर तिल के व्यंजन खाए जाते हैं। तिल न केवल सर्दी भगाने का काम करते हैं, बल्कि यह स्किन पर ग्लो भी लाते हैं। इस बार आप घर पर ही बनाएं तिल मावा की बाटी।

सामग्री -

तिल- 2 कप (250 ग्राम)

मावा- 1 कप (250 ग्राम)

गुड़- 1 कप (250 ग्राम)

घी- 2 टेबल स्पून

बादाम- 15 से 20

इलाइची पाउडर- 1 छोटी चम्मच

विधि -

- तिल मावा बाटी बनाने के लिए सबसे पहले तिल भूनकर तैयार कर लीजिए। तिल भूनने के लिए, गैस जलाकर कढ़ाई गरम कर लीजिए। गरम कढ़ाई में तिल डाल दीजिए और लगातार चलाते हुए तिल का रंग बदलने और फूलने तक भून लीजिए। तिलों का रंग हल्का बदलते और फूले-फूले दिखते ही गैस बंद कर दीजिए। तिल भुनकर तैयार हैं, इन्हें एक प्याले में निकाल लीजिए और थोड़ा ठंडा होने दीजिए।

- जब तक तिल ठंडे हो रहे हैं, तब तक मावा भूनकर तैयार कर लीजिए। गरम कढ़ाई में मावा क्रम्बल करके डाल दीजिए। मावा को लगातार चलाते हुए तब तक भूनिए जब तक कि इसका रंग न बदल जाए। मावा का हल्का रंग बदल गया है और अच्छी खुश्बू आ रही है, मावा भुन गया है। इसे एक प्लेट में निकाल लीजिए।

- इसके बाद, गुड़ पिघला लीजिए। उसी कढ़ाई में एक छोटी चम्मच घी डाल दीजिए और इसे पिघला लीजिए, आंच धीमी रखिए. घी के पिघलते ही, कढ़ाई में गुड़ डाल दीजिए और धीमी आंच पर गुड़ को पिघलने दीजिए। बीच-बीच़ में इसे चला लीजिए। गुड़ कढ़ाई में लगना नही चाहिए। इस बात का विशेष ध्यान रखें।

- जब तक गुड़ अच्छे से पिघले, तब तक तिल पीस लीजिए। एक प्याले में 2 चमचे साबुत तिल अलग रखकर बाकी पीस लीजिए. तिल को मिक्सर जार में डालिए और हल्का दरदरा पीस लीजिए।

- थोड़ी ही देर बाद, गुड़ के पिघलने और इसमें अच्छे से उबाल आने के बाद, गैस बंद कर दीजिए। गुड़ में दरदरे पिसे तिल डालकर मिक्स कर दीजिए। फिर, इसमें इलाइची पाउडर भी डाल दीजिए और सभी सामग्री को अच्छे से मिला लीजिए। तिल और गुड़ का मिश्रण तैय़ार है, इसे एक प्याले में निकाल लीजिए और मिश्रण को हल्का सा ठंडा होने दीजिए। इसी दौरान, गार्निशिंग के लिए बादाम को 2 टुकड़ों में आधा-आधा काट लीजिए।

- मिश्रण के हल्के ठंडे होने के बाद, इसमें मावा डाल दीजिए. मावा को मिश्रण में अच्छे से मिलने तक मिक्स कर लीजिए। मिश्रण तैयार है, अभी हल्का गरम है, बाटी बनाना शुरू कर दीजिए। क्योंकि ठंडा होने के बाद बाटी बनाना मुश्किल होता है, मिश्रण बिखरने लगता है।

- बाटी बनाने के लिए थोड़ा सा मिश्रण हाथ में लेकर गोल कर लीजिए। इसे गोल करके हाथ से दबा-दबा कर बाइन्ड कर लीजिए. फिर, इसे पेड़े जैसा यानिकि बाटी का आकार दे दीजिए और साबुत तिल में लपेट लीजिए। इसके बाद, एक बादाम उठाइए और बाटी के बीच में लगाकर हल्का सा दबाते हुए बाटी के अंदर सैट कर दीजिए। इसी तरह से सारी मावा बाटी बनाकर तैयार कर लीजिए। तिल मावा बाटी बनकर तैयार है, बाटी को ठंडा होने के बाद, किसी भी कन्टेनर में भरकर रख दीजिए और 8 से 10 दिनों तक इनके स्वाद का लुत्फ उठाइए।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???