Server 182
The government agreed to burn trash in Pithampur yuca

Related News

पीथमपुर में यूका कचरा जलाने को सरकार राजी

The government agreed to burn trash in Pithampur yuca

print 
The government agreed to burn trash in Pithampur yuca
9/7/2013 1:29:45 AM
भोपाल।यूनियन कार्बाइड (यूका) के 350 मीट्रिक टन जहरीले कचरे से भोपाल को जल्द निजात मिल सकती है। राज्य सरकार पीथमपुर में कचरा जलाने को राजी है। सुप्रीम कोर्ट में पेश किए अपने जवाब में सरकार ने कहा कि दिसंबर में यह प्रक्रिया शुरू हो सकती है।

वहीं, दूसरी तरफ यूका के सोलर इवोपोरेशन पॉण्ड में निर्माण पर सरकार ने रोक लगाई है। कोर्ट में सोमवार को सुनवाई में तय हो सकता है कि कचरा कहां जलेगा? सुप्रीम कोर्ट में इससे पहले 16 अगस्त को सुनवाई हुई थी। इसमें केन्द्रीय प्रदूष्ाण नियंत्रण बोर्ड ने पीथमपुर में किए गए ट्रायल की रिपोर्ट पेश की थी।

यह ट्रायल कोçच्च की कीटनाशक फैक्ट्री के कचरे को जलाकर हुआ था। बोर्ड ने ट्रायल रिपोर्ट में बताया कि यूका कचरा पीथमपुर में जलाया जा सकता है। इसके बाद सुप्रीम कोर्ट ने राज्य सरकार को पक्ष रखने दस दिन का मौका दिया था। इसी पर शुक्रवार को सुनवाई हुई।

जहरीला कचरा हटाने के लिए आलोक प्रताप सिंह की याचिका पर यह सुनवाई हुई। मामले में पक्षकार और गैस पीडित संगठन की पदाधिकारी रचना ढींगरा ने बताया कि राज्य सरकार की रिपोर्ट में दो प्रमुख बिंदु है। इस रिपोर्ट में सरकार ने दिसम्बर में कचरा पीथमपुर में नष्ट करने की बात हुई है।

वहीं यूका के सोलर इवोपोरेशन पॉण्ड पर प्रतिबंधात्मक धारा 133 लागू कर दी। इसके तहत करीब 32 एकड़ क्षेत्र में किसी भी तरह का निर्माण नहीं होगा। क्षेत्र में कुछ भूमि को निजी बताया जा रहा था। इसमें कुछ निर्माण कार्य भी होने की शिकायत हुई थी।
रोचक खबरें फेसबुक पर ही पाने के लिए लाइक करें हमारा पेज -
अपने विचार पोस्ट करें

Comments
Top