Server 182
Tonk rail line consent by Gehlot

Related News

टोंक रेल लाइन को ग्रीन सिग्नल

Tonk rail line consent by Gehlot

print 
Tonk rail line consent by Gehlot
8/24/2013 2:33:00 AM
नई दिल्ली/टोंक। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की सहमति मिलने के बाद आखिरकार टोंक को रेल से जोड़ने का मार्ग प्रशस्त हो गया है। मुख्यमंत्री ने रेल मंत्री मल्लिकार्जुन खरगे को पत्र भेज कहा है कि राज्य सरकार इस नई रेल लाइन के लिए मुफ्त जमीन देने के साथ खर्च में भी 50 प्रतिशत की हिस्सेदारी देने का तैयार है।
राजस्थान सरकार की सहमति के बाद जल्द ही इस लाइन पर काम शुरू होने के आसार हैं। क्षेत्र के सांसद और केंद्रीय वित्त राज्यमंत्री नमोनारायण मीणा ने कहा, वे इस रेलमार्ग के जल्द शिलान्यास के प्रयास में लग गए हैं।
केंद्रीय मंत्रिमंडल से बजट की स्वीकृति मिलने के साथ ही शिलान्यास का दिन तय कर दिया जाएगा। 709 करोड़ की लागत से बनने वाले इस प्रोजेक्ट के लिए आधी राशि राज्य सरकार देगी। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और रेल मंत्रालय का आभार जताते हुए मीणा ने कहा, 165 किमी लंबे इस मार्ग के बनने से क्षेत्र के कई इलाके रेल से जुड़ जाएंगे।
रेल बजट में थी घोषणा
अजमेर-सवाईमाधोपुर वाया टोंक नई रेल लाइन की घोषणा रेल बजट में की गई थी। योजना आयोग इसे पहले ही हरी झंडी दे चुका है।
पत्रिका ने उठाया था मुद्दा
राजस्थान पत्रिका ने 15 जनवरी से लगातार खबरें प्रकाशित कर टोंक को रेल से जोड़ने का मुद्दा उठाया था। इसके बाद 28 फरवरी को पूरक रेल बजट में टोंक को रेल से जोड़ने के लिए शामिल किया गया, लेकिन राज्य सरकार ने आधी राशि वहन करने के लिए सहमति नहीं दी थी। इस बाद राज्य सरकार से आधा बजट स्वीकृत कराने के लिए पत्रिका ने खबरें प्रकाशित की।
रोचक खबरें फेसबुक पर ही पाने के लिए लाइक करें हमारा पेज -
अपने विचार पोस्ट करें

Comments
Top