Patrika Hindi News

महाकाल के सूखे मेवा प्रसाद में कीड़े....

Updated: IST Bugs in the offerings of Mahakal
महाकाल मंदिर प्रबंध समिति की ओर सूखे मेवे की प्रसाद में कीड़े लगी सामग्री विक्रय की जा रहीं है। इस तरह का मामला शुक्रवार को सामने आया है।

उज्जैन. महाकाल मंदिर प्रबंध समिति की ओर सूखे मेवे की प्रसाद में कीड़े लगी सामग्री विक्रय की जा रहीं है। इस तरह का मामला शुक्रवार को सामने आया है। कीड़े प्रसाद की शिकायत मंदिर समिति के प्रशासन से की गई है। पार्षद माया त्रिवेदी ने शुक्रवार को महाकाल मंदिर में दर्शन के दौरान प्रसाद काउंटर से सूखे मेवे का प्रसाद खरीदा।

प्रसाद पैकेट खोला तो उसमें कीड़े
महाकाल को नैवेद्य लगाने के बाद प्रसाद पैकेट खोला तो उसमें कीड़े लगी सामग्री थी। बादाम और काजू में छेद थ,े तो खारक पर सडऩ थी। त्रिवेदी ने महाकाल मंदिर प्रशासक एमएस रावत को इसकी शिकायत कर प्रसाद की खराब सामग्री को मंदिर से हटाने की मांग की। प्रशासक ने इसकी जांच के साथ सामग्री का परीक्षण करने का आश्वासन दिया है। अवगत कराया तथा उन्हें सलाह दी कि सूखे मेवे के खराब स्टॉक को बाहर कराया जाए।

पैकिंग दिनांक भी नहीं
मंदिर समिति की ओर से बेचे जा रहें प्रसाद की पैकिंग को लेकर नियमों का पालन हनीं किया जा रहा है। पार्षद त्रिवेदी ने बताया कि प्रसाद पैकैट पर न तो पैकिंग की दिनांक थी और न हीं एक्सपायरी दिनांक दर्ज की गई। पैकेट के पीछे केवल इतना लिखा था,कि प्रसाद का उपयोग 15 दिवस में करें। पैकेट पर पैकिंग के दिन का उल्लेख ही नहीं है। ऐसे में खरीदने वाले को कैसे पता चलेगा कि यह प्रसाद खाने योग्य हे या नहीं?

Bugs in the offerings of Mahakal

गुणवत्ता से समझौता नहीं
मंदिर से मिलने वाली प्रसाद की गुणवत्ता से समझौता नहीं करेंगे। जिस काउंटर से पैकेट खरीदा गया है वहां रखे प्रसाद की फूड इंस्पेक्टर के माध्यम जांच कराएंगे।
- एमएस रावत,महाकाल मंदिर प्रशासक

यह भी पढ़े :
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं? निःशुल्क रजिस्टर करें ! - BharatMatrimony
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???