Patrika Hindi News

गंभीर में 20 दिन का पानी, नर्मदा जल का प्रस्ताव तक तैयार नहीं

Updated: IST gambheer 20-day water -  Narmada water proposal is
कलेक्टर बोलें प्रस्ताव आएगा तो एनवीडीए को भेजेंगे, खान से दूषित जल से ही सप्लाय जारी, मानसून ओर खींचा तो बढ़ेगी मुसीबत, नर्मदा जल आने का मिल रहा लगतार आश्वासन

उज्जैन. जलसंकट झेल रहे शहरवासियों के प्रति नगर निगम की घोर लापरवाही सामने आई है। नर्मदा जल लाने निगम ने अब तक कलेक्टर को कोई प्रस्ताव ही नहीं भेजा। यदि समय से भेजा होता तो शायद कुछ सार्थक प्रयास होते। कलेक्टर बोले निगम प्रस्ताव भेजेगा तो एनवीडीए (नर्मदा घाटी विकास प्राधिकरण) को भेजेंगे। इसी मिस मैनेजमेंट में निगम खान के दूषित पानी युक्त शिप्रा जल से सप्लाय दे रहा है। इधर अब मानूसन की सख्त दरकार है। क्योंकि कुछ दिन ओर बारिश खींचीं तो मुसीबत बढ़ जाएगी।

गंभीर डैम में 131 एमसीएफटी पानी
गंभीर डैम में अब महज 131 एमसीएफटी पानी ही बचा है। इसमें से 100 एमसीएफटी पानी डेड स्टोरेज सप्लाय योग्य नहीं। केवल 5 दिन सप्लाय इतना पानी बचा है। बाकी पूरा दारोमदार शिप्रा जल पर है। इसमें 15 से 20 दिन सप्लाय जितना पानी है। लेकिन खान का दूषित जल मिला होने से ये स्वास्थ्य के लिए हानीकारक है।

प्रस्ताव बना लिया, भेजने के निर्देश
इधर निगमायुक्त आशीष सिंह का कहना है की शिप्रा में जल उपलब्ध है इस कारण नर्मदा जल की जरूरत नहीं पड़ी। फिर भी पीएचई अधिकारियों को प्रस्ताव भेजने के निर्देश दिए है। ताकी आगे कभी जरूरत पड़ी तो नर्मदा जल से भी सप्लाई की जा सकें। दरअसल नर्मदा का पानी शिप्रा में छोडऩे का काम नर्मदा घाटी विकास प्राधिकरण का है। उनके अधिकारी ही मांग आने पर पानी लिफ्ट कराते है।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???