Patrika Hindi News

> > > > student Suicide case in ujjain

आत्महत्या : पिता समझे ट्यूशन गई होगी, कमरे में देखा तो फंदे पर झूल रही थी

Updated: IST student Suicide case in ujjain
देवास रोड के निर्मला कॉन्वेंट स्कूल में पढऩे वाली 9वीं कक्षा की छात्रा ने घर पर दुपट्टे से फंदा लगा खुदकुशी कर ली। पिता समझे वह ट्यूशन गई है।

उज्जैन. देवास रोड के निर्मला कॉन्वेंट स्कूल में पढऩे वाली 9वीं कक्षा की छात्रा ने घर पर दुपट्टे से फंदा लगा खुदकुशी कर ली है। पिता समझे वह ट्यूशन गई है, लेकिन कमरे में जाकर देखा तो फंदे पर बेटी को देख उनके होश उड़ गए। बेटी की मौत की खबर सुनते ही मां बेहोश हो गई। यह हादसा विवेकानंद कॉलोनी में रहने वाले तरुण खत्री के घर गुरुवार शाम चार बजे के करीब हुआ। तरुण केबल आपरेटर हैं और पत्नी प्राइवेट स्कूल में शिक्षिका हैं।

घर में एक बेटा व बेटी
घर में एक बेटा व बेटी है। गुरुवार को पत्नी स्कूल गई थी व बेटा इंदौर रोड स्थित मेघदूत ढाबे पर काम पर गया था। दोपहर में दो बजे के करीब तरुण घर पर थे इसी दौरान उनकी बेटी यशस्वी स्कूल बस से घर आई, खाना खाया। इस दौरान पिता से बात भी की। उन्होंने यशस्वी को कहा कि शाम चार बजे ट्यूशन जाते समय उन्हें जगा देना। बेटी ने हां कहा और बैग जमाने में लग गई। शाम सवा चार बजे करीब पिता की नींद खुली तो वे यशस्वी को देखने उसके कमरे में गए। दुपट्टे के फंदे में पंखे पर उसका शव लटका हुआ थी। चीख पुकार सुन आसपास के लोग भी इकट्ठा हो गए।

मां घर पहुंची तो बेहोश हो गई
मां घर पहुंची तो हादसे का सुन बाहर ही बेहोश हो गई, जिसे पड़ोसियों ने संभाला। सूचना मिलते ही नीलगंगा पुलिस सहित एफएसएल अधिकारी भी घटना स्थल पर पहुंच गए। शव को फंदे से उतार पीएम के लिए जिला अस्पताल भिजवाया।
कारण स्पष्ट नहीं, सुसाइड नोट भी नहीं मिला

कारण स्पष्ट नहीं
9वीं कक्षा में पढऩे वाली यशस्वी ने घर आने के बाद यह कदम क्यों उठाया फिलहाल कारण स्पष्ट नहीं है। परिजन कुछ भी कहने की स्थिति में नहीं थे। नीलगंगा थाना एसआई पोपङ्क्षसह ने बताया कि घर पर कोई सुसाइड नोट भी नहीं मिला। आसपास के लोगों से भी बात की, उनका यही कहना था कि बच्ची पढऩे में होशियार थी कभी उदास भी नहीं देखा। हम भी हैरान हैं।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे