Patrika Hindi News

शर्मनाक : वह दो घंटे प्रसव पीड़ा से तड़पती रही, नहीं पसीजा किसी का दिल

Updated: IST suffering woman during pregnancy pain
जिले में स्वास्थ्य के लचर ढर्रे का एक और शर्मनाक उदाहरण सामने आया है। गुरुवार को करीब दो घंटे तक गर्भ प्रसव पीड़ा से महिला जमीन पर तड़पती रही, लेकिन स्वास्थ्य केंद्र के किसी कर्मचारी ने संज्ञान नहीं लिया।

पानबिहार. जिले में स्वास्थ्य के लचर ढर्रे का एक और शर्मनाक उदाहरण सामने आया है। गुरुवार को करीब दो घंटे तक गर्भ प्रसव पीड़ा से महिला जमीन पर तड़पती रही, लेकिन स्वास्थ्य केंद्र के किसी कर्मचारी ने संज्ञान नहीं लिया। नायब तहसीलदार के हस्तक्षेप के बाद उसे रैफर किया गया। मामले में सीएमएचओ ने जांच के आदेश जारी किए हैं।

स्वास्थ्य केंद्र पर लाया गया
सुतारखेड़ी की सुनीता पति घनश्याम यादव को प्रसव पीड़ा के चलते पानबिहार स्थित स्वास्थ्य केंद्र पर लाया गया, लेकिन वहां किसी भी कर्मचारी ने संज्ञान नहीं लिया। करीब दो घंटे तक वह दर्द से कराहती रही। सूचना मिलने पर नायब तहसीलदार बीएस पाटीदार के हस्तक्षेप के बाद महिला को उज्जैन स्थित चरक अस्पताल भिजवाया गया।

फार्मासिस्ट व मेल स्टाफ के भरोसे केंद्र
स्वास्थ्य केंद्र पर डॉक्टर नहीं रहते हैं। फार्मासिस्ट और मेल स्वास्थ्य कर्मचारी के भरोसे केंद्र संचालित किया जा रहा है। घनश्याम ने बताया यदि डॉक्टर नहीं हैं तो फिर स्वास्थ्य केंद्र संचालित किए जाने का क्या औचित्य। इससे बेहतर तो यहां स्वास्थ्य केंद्र हो ही ना, ताकि मरीज सीधे जिला मुख्यालय जाए।

मामले की जांच होगी
" मामला गंभीर है। इसलिए इसकी जांच की जाएगी। अगली बार से ऐसा ना हो इसके लिए निर्देश जारी करेंगे। "
- डॉ.प्रदीप व्यास, सीएमएचओ

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???