Patrika Hindi News

गर्मी पर काले बादलों का साया...जानें क्यों मौसम में बदलाव आया

Updated: IST black cloud
12 किमी प्रतिघंटे की रफ्तार से चली हवा, आधा मार्च बीता, लेकिन गर्मी के तेवर ठंडे

उज्जैन. कुछ दिनों से मौसम नए-नए रूप दिखा रहा है। मार्च महीने में कभी न्यूनतम पारा 8 डिग्री तक पहुंच रहा तो कभी गर्मी 35 डिग्री तक का आंकड़ा छू रही है। हालांकि आधे से ज्यादा मार्च बीतने के बाद गर्मी अपने शिखर पर नहीं है। 12 किलोमीटर प्रतिघंटे रफ्तार से चल रही हवा ने गर्मी के तेवर ठंडे कर रखे हैं। रविवार को शीतला सप्तमी पर मानो मौसम भी बिलकुल शीतल ही रहा। दिनभर काले बादल छाए रहे।
शहर में मौसम का मिजाज बदल रहा है। उत्तर भारत के मैदानी इलाके में एक सिस्टम के कारण बादल छाने के साथ ही गरज-चमक के साथ बूंदाबांदी होने की संभावना बनी। रविवार को दिनभर 12 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से हवा चली, इससे तापमान में गिरावट आई।
शनिवार-रविवार की रात तापमान 17.5 डिग्री से दर्ज हुआ, जो शुक्रवार-शनिवार की रात 15 डिग्री से 1.5 डिग्री सेल्सियस ज्यादा रहा। इसी तरह रविवार को दिन का तापमान 33.0 डिग्री से. रिकॉर्ड हुआ। ठंडी हवा तापमान में बढ़ोतरी नहीं हुई।

आगे क्या...
मौसम विज्ञानियों के अनुसार राजस्थान से गुजरात तक एक ट्रफ बना हुआ है। इस कारण नमी आना शुरू हो गई है। इस वजह से गरज-चमक के साथ बूंदाबांदी के आसार बन रहे हैं। रविवार को भी दिनभर आसमान पर काले बादलों ने डेरा डाले रखा। आसमान के साफ होते ही, एक बार फिर दिन के तापमान में तेजी आना शुरू हो जाएगी।

पिछले तीन सालों में 19 मार्च का तापमान
वर्ष अधिकतम न्यूनतम
2016 33 19.0
2015 30.6 14.0
2014 35.5 16.5

यह भी पढ़े :
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं? निःशुल्क रजिस्टर करें ! - BharatMatrimony
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???