Patrika Hindi News

Video Icon
PM मोदी के गढ़ में गठबंधन में दरार, BJP को मात देने की साध रह गई अधूरी

Updated: IST Congress, SP alliance broken
गठबंधन के दोनों दलों के पदाधिकारियों ने साधी चुप्पी।

वाराणसी. विधानसभा चुनाव के नामांकन के अंतिम दिन सपा ने कांग्रेस को दिया जोर का झटका। खास तौर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के गढ़ में सपा ने वाराणसी कैंटोन्मेंट क्षेत्र से प्रत्याशी उतार कर सभी को चौंका दिया। अब सीट से कांग्रेस और सपा के उम्मीदवार दोनों के बीच कांटे की टक्कर होने की उम्मीद जाताई जा रही है।

कांग्रेस उम्मीदवार कर चुके हैं नामांकन

बता दें कि कैंटोन्मेंट विधानसभा क्षेत्र से सपा के टूटन के पहले ही तत्कालीन प्रदेश अध्यक्ष शिवपाल यादव ने रीबू श्रीवास्तव को टिकट दिया था। इसके बाद जब सपा और कांग्रेस के बीच गठबंधन की बात चलनी शुरू हुई तभी से रीबू की गर्दन पर तलवार लटक रही थी। इसी दौरान वाराणसी से गाजीपुर जाते वक्त बाबतपुर हवाई अड्डे पर रुके मुलायम सिंह यादव के पैरों तक में गिर पड़ी थीं रीबू श्रीवास्तव। लेकिन कारण गठबंधन के बाद कांग्रेस ने वाराणसी से जिन सीटों पर दावा पेश किया था उसमें कैंटोन्मेंट विधानसभा क्षेत्र भी था क्योंकि इस सीट पर पिछली बार कांग्रेस उम्मीदवार अऩिल श्रीवास्तव 45 हजार से ज्यादा वोट पा कर दूसरे नंबर पर थे गठबंधन के बाद यह सीट कांग्रेस के खेमें में आई भी। अनिल ने इस सीट से नामांकन भी कर दिया। उस नामांकन में समाजवादी पार्टी के पदाधिकारी व बड़े नेता भी हुए थे। लेकिन जिस तरह से बुधवार से ही रीबू श्रीवास्तव को टिकट मिलने की चर्चा शुरू हुई और गुरुवार को उन्होंने सपा के सिंबल पर पर्चा भर भी दिया।

देखें विडियो में क्या कहा रीबू ने-

रीबू ने कांग्रेस उम्मीदवार को कहा हारा खिलाड़ी

नामांकन के बाद मीडिया से मुखातिब रीबू श्रीवास्तव ने कांग्रेस उम्मीदवार अनिल श्रीवास्तव को हारा खिलाड़ी घोषित किया। वहां एक परिवार दो दशक से क्षेत्र की जनता को बरगला रहा है तो दूसरा है जो चार बार से पराजित हो रहा है। कैंट की जनता का प्यार, स्नेह मिल रहा है। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने मुझे सिंबल दिया है। पदाधिकारियों के न होने की बात पर कहा कि आज ही सिंबल ले कर वाराणसी पहुंची, फोन से सभी को बोल दिया था। मेरे साथ पूरी समाजवादी पार्टी है क्षेत्र की जनता है।

डॉ.पीयूष ने कहा संगठन को नहीं पता

सपा के जिलाध्यक्ष डॉ. पीयूष यादव ने पत्रिका से बातचीत में कहा कि रीबू को टिकट दिए जाने की सूचना वाराणसी संगठन को नहीं है। उच्च पदस्थ पदाधिकारियों से इस संबंध में बात नहीं हो पा रही है। मुझे से भी मीडिया से ही जानकारी मिली है। आगे प्रदेश पदाधिकारियों से इस मसले पर बात की जाएगी।

प्रजा नाथ को भी नहीं पता गठबंधन में दरार के बारे में

कांग्रेस के जिलाध्यक्ष प्रजानाथ ने पत्रिका से बातचीत में कहा कि मुझे पर भी इस बाबत कोई जानकाररी नहीं। अलबत्ता इस संबंध में मैने प्रदेश अध्यक्ष राजबब्बर, प्रदेश प्रभारी गुलाम नबी आजाद और पीसीसी को मेल कर दिया है। लेकिन कोई जवाब अभी तक नहीं मिला है

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???