Patrika Hindi News

कांग्रेस की सांगठनिक चुनावी बैठक में उठा हक और हुकूक का मुद्दा

Updated: IST Congress, organizational election meeting
आम कार्यकर्ताओं ने बुलंद की आवाज, कहा, हम विपक्ष को टक्कर देने में कमजोर नहीं पर हमें मौका तो मिले।

वाराणसी. कांग्रेस के सांगठनिक चुनाव की पहली बैठक में कार्यकर्ताओं ने हक और हुकूक का मुद्दा उठाया। उन्होंने कहा कि वे विपक्ष को करारा जवाब देने को तैयार हैं पर हमें मौका तो मिले। यहां तो लड़ते हम हैं और पद मिलता है गणेश परिक्रमा करने वालों को। ऐसे संगठन को कैसे मजबूती मिलेगी। यहां तो बड़ी-बड़ी लग्जरी गाड़ियों में घूमनें वालों को ही पूछा जाता है। हम कमजोर लोग जो साइकिल से चलते हैं उनकी सरासर उपेक्षा होती है। ऐसे में पार्टी कैसे मजबूत होगी। उन्होंने कहा कि हम सर कटाने और दुश्मनों का माकूल जवाब देने के लिए तैयार हैं।

इस मौके पर एआईसीसी की चुनाव संचालन समिति की ओर से नियुक्त डीआरओ हरियाणा के बादली के पूर्व विधायक नरेश प्रधान ने सभी कार्यकर्ताओं की बातें सुनने के बाद सभी को आश्वस्त किया कि इस दफा गणेश परिक्रमा करने वालों को संगठन की कमान नहीं सौंपी जाएगी। उन्होंने बैठक के बीच पत्रिका से बातचीत में कहा कि इस बार जिसने भी जमीन पर काम किया है। भाई चारा स्थापित करने के लिए मेहनत की है। ज्यादा से ज्यादा कार्यकर्ता बनाए हैं उन्हें आगे किया जाएगा। ये हमारा पहला दौरा है। हमें पूर्वांचल के तीन जिले मिले हैं। सब जगह मीटिंग कर पहले हम फीडबैक लेंगे। उसके बाद आगे की कार्रवाई होगी। बताया कि वह पांच अगस्त के बाद दोबारा आएंगे। फिर संगठनात्मक चुनाव की गतिविधि को आगे बढ़ाएंगे। सब कुछ पूरी तरह से पारदर्शी होगा।

देखें वीडियो-

इस मौके पर पार्षद असलम खां ने बैठक में जोरदार तरीके से अपनी बात रखी। बताया कि किस तरह से लग्जरी गाड़ियों में चलने वाले बड़े-बड़े लोगों को कांग्रेस में तवज्जो दी जाती है। आम कार्यकर्ता की किस तरह से उपेक्षा होती है। उन्होंने कहा कि संगठन में मेरे जैसे तमाम कार्यकर्ता हैं जो अपनी जान न्योछावर करने को तैयार हैं पर पार्टी संगठन उन्हें पूछे तब तो। कांग्रेस पार्षद ने कहा कि केवल अपने महजब को तवज्जो देने से काम नहीं चलने वाला। इसके लिए कमर कस के काम करना होगा। उन्होंने बुलंद आवाज में कहा कि हमें भी असलहा मिले तो हम दुश्मनों को चकनाचूर कर सकते हैं। असलम खान ने नगर निगम सदन का मुद्दा भी उठाया। शहर की बदहाली का जिक्र किया। कहा कि यहां के मेयर सदन में पार्षदों पर वंदे मातरम गान करने का दबाव बनाते हैं जबकि उन्हें खुद ही वंदे मातरम गान का पता नहीं। उन्होंने जोश के साथ भारत माता की जय का उद्घोष भी किया। उनके गर्मजोशी से दिए संबोधन पर बैठक में मौजूद लोगों ने कई बार तालियां बजा कर उनका समर्थन किया।

देखेें वीडियो-

बैठक के मुख्य अतिथि एवं अखिल भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस द्वारा नियुक्त संगठन प्रभारी डीआरओ हरियाणा के विधायक नरेश ने कहा कि वाराणसी की सफाई व्यवस्था पर चुटकी भी ली। कहा कि यहां के बारे मे जितना मीडिया द्वारा प्रचारित था, सुना था मुझे ये कहते हुए बेहद अफसोस है कि उसका रंचमात्र भी मुझे कहीं देखने को नही मिला। प्रचार से कोसों दूर जैसी गंदगी मुझे यहां देखने को मिली ऐसा अबतक के जीवनकाल मे मैने कहीं नही देखी।

कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए जिलाध्यक्ष प्रजानाथ शर्मा ने कहा कि भाजपा सबसे बड़ी मिस्ड कॉल पार्टी है। फर्जी मिस्ड कॉल के आधार पर खुद को दुनिया की सबसे बड़ी पार्टी बताती है। हम जमीनी सच्चाई में यकीन करते हैं। हमने सदस्यता अभियान में हजारों नए लोग जोड़े हैं।

महानगर कांग्रेस अध्यक्ष सीताराम केसरी ने आभार जताया। इस मौके पर आज कई नए कार्यकर्ताओं को कांग्रेस की प्राथमिक सदस्यता भी दिलाई गई।

बैठक मे एआईसीसी सदस्य अनिल श्रीवास्तव, प्रदेश सेवादल प्रमुख प्रमोद पाण्डेय, महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ के पत्रकारिता विभागाध्यक्ष डॉ. अनिल उपाध्याय, दुर्गा प्रसाद गुप्ता, देवेंद्र सिंह, फसाहत हुसैन, हर्षवर्धन सिंह, पुनम कुंडू, राजेश्वर पटेल, राकेश पाठक, विष्णु कांत मिश्रा, विजय देवल, अशोक सिंह, बीसी राम, विपन सिंह, राजकुमार सोनकर, रामसुधार मिश्रा, राजेंद्र मिश्रा राजू, असलम खान, मोहम्मद साजिद, आंनद कुशवाहा, राकेश चंद्र, हरीश मिश्रा, प्रभात मिश्रा, शैलेंद्र सिंह, रविशंकर पाठक आदि मौजूद रहे।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???