Patrika Hindi News

Video Icon क्राइम ब्रांच ने मुठभेड़ के बाद पकड़ा इनामी बदमाश, एसएसपी ने पुलिस टीम को दिया इनाम

Updated: IST Crime Branch
50 हजार इनामी के गिरोह का सदस्य है पकड़ा गया बदमाश, जानिए क्या है कहानी

वाराणसी. क्राइम ब्रांच को सोमवार को बड़ी सफलता मिली है। क्राइम ब्रांच ने 50 हजार के इनामी गुड्डू मामा गिरोह के सक्रिय सदस्य राम बाबू यादव उर्फ बाबू यादव को पकड़ा है। बाबू यादव पर पांच हजार का इनाम था। एसएसपी ने क्राइम ब्रांच के कार्यों की तारीफ करते हुए पांच हजार का इनाम भी दिया है।

एसएसपी रामकृष्ण भारद्राज ने मीडिया को बताया कि राम बाबू पर विभिन्न थानों में कुल 22 मुकदमे दर्ज है। हत्या, रंगदारी से लेकर कई मामलों में रामबाबू अभियुक्त है। एसएसपी के अनुसार शहर में हुई तीन घटनाओं में पुलिस को रामबाबू की तलाश थी। इसके पकड़े जाने से शहर की शांति व्यवस्था ठीक होगी।

क्राइम ब्रांच ने मुठभेड़ के बाद पकड़ा इनामी बदमाश

SSP Ramkrishna Bharadraj

देखे वीडियो:-

एसएसपी ने बताया कि क्राइम ब्रांच प्रभारी ओम नारायण सिंह को मुखबिर से सूचना मिली थी कि इनामी बदमाश गुड्डू मामा उर्फ राजकुमार बिंद निवासी राजाबाजार, नदेसर, दीपक वर्मा व उर्फ गुड्डू निवासी नई बस्ती लक्सा व रामबाबू किसी आपराधिक घटना को अंजाम देने जा रहे हैं। इस पर क्राइम ब्रांच व शिवपुर पुलिस ने रविवार को रात 8.30 बजे पिसौर पुल के पास घेराबंदी कर ली। इसी बीच लोहता की तरफ से एक बाइक पर तीन व्यक्ति सवार होकर आ रहे थे। इस पर पुलिस ने बाइक सवारों को रोकने का प्रयास किया तो बदमाशों ने पुलिस पर लक्ष्य करके फायर झोंक दिया। इसी बीच बदमाश वहां से भागने का प्रयास करने लगे तो बाइक असंतुलित हो गयी। इससे पीछे बैठा हुआ बदमाश गिर पड़ा और शेष दोनों अपराधी वहां से भाग खड़े हुए। पुलिस ने पकड़े गये बदमाश से पूछताछ की तो वह इनामी बदमाश रामबाबू निकला। पुलिस ने बदमाश के पास से असलहा व कारतूस भी बरामद किया है।

15 वर्षों से जरायम की दुनिया में सक्रिय है रामबाबू

रामबाबू 15 वर्षों से जरायम की दुनिया में सक्रिय हैं। जेल से छूटने के बाद राममाबू अपराध में लिप्त हो जाता है। क्राइम ब्रांच की पूछताछ में रामबाबू ने बताया कि मुठभेड़ में मारे गये सनी सिंह गिरोह में रहे रोशन गुप्ता उर्फ किट्टू, निवासी बड़ी पियरी थाना चौक भी हम लोग से जुड़ गया है। भाड़े पर हत्या तथा लूट करने वाले फरार इनामी बदमाश रईस सिद्दकी, दीपक वर्मा व गुड्डू मामा के कहने पर ही तीन बदमाश लूट के लिए शिवपुर जा रहे थे। बाइक पर रामबाबू के अतिरिक्त रोशन किट्टू व देवेन्द्र मिश्रा, निवासी नीलकंठ गली मणिकर्णिका घाट भी था। बाइक रोशन किट्टू चला रहा था और सबसे पीछे रामबाबू बैठा था। सभी बदमाशों के पास असलहे थे। दोनों बदमाश भागने में कामयाब हो गये, लेकिन रामबाबू पकड़ा गया। इनामी बदमाश को पकडऩे में क्राइम ब्रांच प्रभारी ओम नारायन सिंह के अतिरिक्त सर्विलांस विंग प्रभारी अजय सिंह, शिवपुर एसओ शिवानंद मिश्रा, एसआई राकेश सिंह आदि पुलिस अधिकारी शामिल थे।

यह भी पढ़े :
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मॅट्रिमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???