Patrika Hindi News
Bhoot desktop

BREAKING-मंडलीय अस्पताल की सफाई व्यवस्था में फिर मिली खामी, नाराज हुए सीएम योगी के मंत्री

Updated: IST Minister Suresh Khanna
कहा नहीं होगा सुधार तो बदली जायेगी व्यवस्था, जानिए और क्या है खास

वाराणसी. नगर विकास मंत्री सुरेश खन्ना ने शनिवार को शिवप्रसाद गुप्त मंडलीय अस्पताल का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान सीए योगी आदित्यनाथ के मंत्री ने सफाई व्यवस्था पर नाराजगी जतायी है। मंत्री ने कहा कि पहले भी यहां की सफाई व्यवस्था खराब थी और अभी भी सही नहीं है। यदि व्यवस्था में परिवर्तन नहीं होता है तो जिम्मेदार लोगों को हटाया जायेगा।
पीएम नरेन्द्र मोदी के गढ़ में विकास योजनाओं का हाल जानने के लिए ही नगर विकास मंत्री सुरेश खन्ना आये हैं। उन्होंने शिवप्रसाद गुप्त मंडलीय अस्पताल का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान सबसे पहले मंत्री ने बर्न यूनिट देखा। इसके बाद उन्होंने वार्ड नम्बर 7 व वार्ड देखा। सीएम योगी के मंत्री प्राइवेट वार्ड भी गये। उन्होंने कई मरीजों से बात कर अस्पताल से मिलने वाली सुविधा का हाल जाना। एक मरीज ने कहा कि उन्हें आर्थाे की समस्या है और यहां पर इंडियन टॉयलेट है जबकि उनके जैसे मरीजों को कमोड की जरूरत होती है। मरीज की समस्या सुनकर मंत्री समाधान कारने का आश्वासन दिया। कई वार्ड में पंखों से आ रही आवाज पर भी मंत्री ने नाराजगी जतायी और तुरंत पंखों को ठीक कराने को कहा है।

व्यवस्था में होगा बदलाव

मीडिया से बातचीत में सुरेश खन्ना ने कहा कि व्यवस्था मेंं बदलाव देखने को मिलेगा। यहां पर जो समस्या है उसका समाधान होगा। यूपी सरकार लोगों को अच्छी स्वास्थ्य सेवा देने के लिए संकल्पित है। जल्द ही सभी को व्यवस्था में बदलाव देखने को मिलेगा।

सिद्धार्थनाथ सिंह ने कहा है मॉडल होगा मंडलीय अस्पताल
स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने भी मंडलीय अस्पताल का निरीक्षण किया था और इसे मॉडल अस्पताल बनाने की बात कही है। उन्होंने कहा था कि यहां पर वेंटीलेटर व आईसीयू की भी सुविधा मिलेगी। हालांकि स्वास्थ्य मंत्री का निरीक्षण हुए एक माह होने वाला है और अभी तक मंडलीय अस्पताल को नयी सुविधा नहीं मिली है।
यह भी पढ़े:-नेपाल में आये भूकंप के बाद पहली बार नापी जायेगी माउंट एवरेस्ट की ऊंचाई

नि:शुल्क एक्स-रे में पैसे मांगे जाने की शिकायत पर मंत्री ने दिया जांच का आदेश
नगर विकास मंत्री सुरेश खन्ना के मंडलीय अस्पताल के निरीक्षण के दौरान एक मरीज ने नि:शुल्क एक्स-रे के नाम पर पैसे मांगे जाने की शिकायत की। इस पर मंत्री ने शिकायत को गंभीरता से लेते हुए सीएमओ से मामले की जांच करने को कहा है। मंत्री ने मरीज से कहा शिकायत का शपथ पत्र भी दिया जाये। जांच में शिकायतकर्ता या फिर एक्स-रे विभाग के लोग में जो भी दोषी मिलता है उसके खिलाफ कार्रवाई की जायेगी।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???