Patrika Hindi News
UP Election 2017

गजब यहां मुस्लिम भी देते हैं बीजेपी को वोट, सात बार से लहरा रहा भगवा

Updated: IST BJP
विरोधी दलों ने लगायी थी ताकत, फिर भी नहीं बिखरा भगवा का यह गढ़

वाराणसी. आम तौर पर मुस्लिम मतदाता बीजेपी से दूरी बनाये रखते हैं लेकिन पीएम नरेन्द्र मोदी की संसदीय सीट का एक विधानसभा क्षेत्र ऐसा भी है जहां पर मुस्लिम वोटर भी बीजेपी प्रत्याशी के पक्ष में मतदान करते हैं। वर्ष 2012 में परिसीमन के बाद घनी मुस्लिम आबादी भी इस क्षेत्र से जुड़ गयी है लेकिन बीजेपी विधायक ने सातवी बार चुनाव जीत कर खुद को साबित किया है।
यहां पर मुस्लिम की आबादी को लेकर अलग-अलग मत है। यहां पर पार्टी के सिंबल से ज्यादा प्रत्याशी के चेहरे को महत्व दिया जाता है। मुस्लिम भी बीजेपी के प्रत्याशी में मतदान करते हैं, जिसके चलते सात बार से फगवा लहरा रहा है।
हम बात कर रहे हैं वाराणसी संसदीय क्षेत्र के शहर दक्षिणी विधानसभा क्षेत्र की। बीजेपी विधायक श्यामदेव राय चौधरी का कहना है कि यहां पर 40 से 45 प्रतिशत वोटर मुस्लिम है और मैने जाति व धर्म से उपर उठ कर कार्य किया है इसलिए चुनाव में मुस्लिमों का भी समर्थन मिलता है। हालांकि पूर्व में कौएद से चुनाव लड़े अतहर जमाल लारी का कहना है कि यहां पर लगभग तीन लाख वोटर है जिसमे से एक लाख से थोड़े अधिक मतदाता है। ऐसे में इसे मुस्लिम बाहुल्य क्षेत्र नहीं माना जा सकता है। यह तो राजनीतिक दलों की अपनी-अपनी बात है, लेकिन इस बात में किसी को शक नहीं है कि एक ही सीट से सात बार जितना किसी प्रत्याशी के लिए आसान नहीं होगा।

जानिए शहर दक्षिणी में कब-कब बीजेपी को मिली जीत

2012-श्यामदेव राय चौधरी (57868) बी
जेपी, डॉ. दयाशंकर मिश्र दयालू (44046) कांग्रेस
2007- श्यामदेव राय चौधरी (33021) बीजेपी, डॉ. दयाशंकर मिश्र दयालू (19319) कांग्रेस
2002- श्यामदेव राय चौधरी (43458), राकेश जैन (22653) सपा
1996-श्यामदेव राय चौधरी (65288) बीजेपी, देवब्रत मजुमदार (28006) कांग्रेस
1993-श्यामदेव राय चौधरी (63726), बीजेपी, दिलीप डे (24221) सपा
1991-श्यामदेव राय चौधरी (57829), बीजेपी, विजय दुबे (13662) जद
1989-श्यामदेव राय चौधरी (39529) बीजेपी, डॉ. रजनी कांत दत्ता (17789) कांग्रेस
1985- डॉ. रजनी कांत दत्ता (28400) कांग्रेस, श्यामदेव राय चौधरी (13639) बीजेपी
1980- कैलाश टंडन (19048) कांग्रेस, राजबलि तिवारी (18297) बीजेपी
1977-राजबलि तिवारी (36016) जनता पार्टी, राजकुमार (13283) कांग्रेस
1974-चरणदास सेठ (19826)जनसंघ, गिरिजेश राय(13431)सीपीआई
1969- सचींद्र नाथ बख्शी (20896) जनसंघ, रुस्तम सैटिन (20059) सीपीआई
1967- रुस्तम सैटिन (24983) सीपीआई, जीए तोड़पे (16011) बीजेएस
1962- गिरधारी लाल (20244) कांग्रेस, रुस्तम सैटिन (16150) सीपीआई
1957- डॉ. संपूर्णानंद (29002) कांग्रेस, रुस्तम सैटिन (16578)
1951- डॉ. संपूर्णानंद (12170) कांग्रेस, रुस्तम सैटिन (7847) सीपीआई

पीएम पीएम अटल के रहे हैं करीबी, पार्टी बुला कर देती है

पूर्व पीएम अटल बिहारी बाजपेयी के खास रहे सात बार से बीजेपी विधायक श्यामदेव राय चौधरी कभी चुनाव लडऩे का आवदेन नहीं करते हैं। बीजेपी खुद ही दादा को टिकट देती है। पत्रिका से बातचीत में दादा ने कहा कि इस बार भी टिकट के लिए आवेदन नहीं किया है। बीजेपी निर्देश देगी तो चुनाव लड़ेंगे। पार्टी का निर्देश ही वह मानेंगे।

टिकट पर लटक रही तलवार

बीजेपी के सात बार के विधायक श्यामदेव राय चौधरी के टिकट पर तलवार लटक रही है। दादा का टिकट 75 साल से अधिक आयु होने के कारण फंस सकता है। फिलहाल बीजेपी ने अभी टिकटों की सूची जारी नहीं की है इसलिए दादा का भविष्य भी अनिश्चिता में फंसा हुआ है।

अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???