Patrika Hindi News
UP Scam

यूपी के थानेदारों को  हर महीने देनी होगी परीक्षा ,फेल हुए तो होगी छुट्टी 

Updated: IST UP POLICE, UTTAR PRADESH, VARANASI, GORAKHPUR, UP
यूपी के थानेदारों को हर महीने देनी होगी परीक्षा ,फेल हुए तो होगी छुट्टी

वाराणसी। उत्तर प्रदेश में पुलिस सुधारों के तहत एक तरफ जहाँ बड़े पैमाने पर ट्रांसफर और निलंबन की प्रक्रिया चल रही है।वही थानेदारों को चुस्त दृरुस्त और चौकस बनाने के लिए भी इंतजाम किये जा रहे हैं। नए नियमों के तहत यूपी के हर थानेदार को हर महीने एक परीक्षा पास करनी होगी। चौंकिए मत इस परीक्षा में कोई पेपर नहीं होगा लेकिन 100 नंबर का यह एग्जाम थानेदार की कार्यकुशलता का आईना होगा।

अब ग्रेडिंग नहीं सीधे नंबर मिलेंगे
इस परीक्षा में फिलहाल ज्यादा नम्बर पाने वालों को जहाँ जिलावार पुरस्कार मिलेगा वही फेल होने वालों की लाइन वापसी होगी । फिलहाल थानेदारों की परीक्षा लिए जाने का यह सिलसिला गोरखपुर जिले से शुरू किया जा रहा है। गौरतलब है कि कुछ समय पहले तक जिलावार थानों की ग्रेडिंग हुआ करती थी। सालभर के दर्ज मुकदमे, गिरफ्तारी, लंबित प्रकरणों का निपटारा, नशीले पदार्थों की जब्ती सहित अपराध संख्या के आधार पर यह ग्रेडिंग की जाती थी।लेकिन नंबर के आधार पर थानेदारों के काम काज को नापने का सिलसिला अब शुरू होने जा रहा है।

थानेदारों को भी भरनी होगी अपनी मूल्यांकन सूची
थानेदारों की परीक्षा लिए जाने के मुद्दे पर गोरखपुर के आईजी जोन मोहित अग्रवाल कहते हैं फिलहाल हम आज से है मूल्यांकन की व्यवस्था शुरू करने जा रहे हैं। हर महीने जिला स्तर पर इसकी समीक्षा की जाएगी।मोहित अग्रवाल ने बताया कि कमजोर थानेदारों की पहचान के लिए शुरू की गई इस व्यवस्था में मूल्यांकन के दौरान केस डायरी की स्थिति, विवेचना निस्तारण, बदमाशों की गिरफ्तारी, अपराध नियंत्रण, जनता से व्यवहार की समीक्षा होगी इनके अलावा थानेदारों को एक मूल्यांकन सूची भी दी जायेगी। जिसे वो भर कर सम्बंधित एसपी को देंगे एसपी अपनी सूची से थानेदार की सूची का मिलान करेंगे ।
कैसे मिलेंगे नंबर
पुलिस सूत्रों की माने तो थानेदारों की परीक्षा के लिए जो मूल्यांकन प्रक्रिया बनाई गई है उनमे अंकों का निर्धारण निम्नवत होगा ।

1. थानों की साजसज्जा और सफाई - 20 अंक

2. थानों पर आने वाले वादियों के लिए व्यवस्था -10 अंक

3. थानों के रजिस्टर, दस्तावेजों का रख - रखाव - 10 अंक

4. थानों के कार्य की समीक्षा, कार्रवाई की समीक्षा- 10 अंक

5. निरोधात्मक कार्रवाई का विवरण - 10 अंक

6. विभिन्न अपराधों में हुई कार्रवाई, उनका ब्यौरा - 10 अंक

7. लंबित विवेचनाएं, आनलाइन रिकार्ड के अनुसार -10 अंक

8. पुरस्कार घोषित अपराधी - 5अंक

9. माफियाओं पर कार्रवाई का विवरण - 10 अंक

10. अतिक्रमण हटाने, ट्रैफिक सुधार पर कार्रवाई - 5 अंक

यह भी पढ़े :
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं? निःशुल्क रजिस्टर करें ! - BharatMatrimony
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???