Patrika Hindi News

Video Icon सारनाथ Police को मिली सफलता, 10 लाख के बंद नोटों के साथ तीन गिरफ्तार

Updated: IST Sarnath Polic
एसएसपी ने पुलिसकर्मियों को दिया पांच हजार का नगद पुरस्कार, जानिए क्या है कहानी

वाराणसी.वाराणसी. सारनाथ पुलिस को सोमवार को बड़ी सफलता मिली है। पुलिस ने 10 लाख नकली नोटों के साथ तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। सोमवार को एसएसपी रामकृष्ण भारद्वाज ने पुलिस लाइन सभागार में पकड़े गये लोगों की जानकारी का खुलासा किया।

एसएसपी ने बताया कि सरनाथ एसओ अखिलेश कुमार मिश्रा को मुखबिर से सूचना मिली थी कि कुछ लोग भारी मात्रा में बंद हो चुके नोटों को लेकर जा रहे हैं। सारनाथ पुलिस ने सूचना को गंभीरता से लेते हुए पहडिय़ा चौराहे पर चेकिंग करना शुरू कर दी। इसी बीच स्कूटी पर तीन युवक आते दिखायी पड़े। पुलिस ने दोनों युवकों को पकड़ कर तलाशी शुरू की। पुलिस को वाहन से भारी मात्रा में बंद हुए नोट बरामद हुए। पुलिस ने जब दोनों व्यक्ति से कड़ाई से पूछताछ की तो वह टूट गये और सारी कहानी बता दी।

देखे वीडियो:-

पुलिस पूछताछ में तीनों आरोपियों ने अपना नाम दशरथ, निवासी बिहार , दूसरे ने अशोक, निवासी आजमगढ़ व तीसरे ने महेश निवासी सीवान, बिहार बताया। तीनों आरोपियों ने बताया कि पुराने नोटों को हम लोगों ने नये नोटों के साथ बदलने के लिए ले जा रहे थे, लेकिन नोट नहीं बदल पाये थे इसलिए उसे लेकर वापस आ रहे थे कि पुलिस के हत्थे चढ़ गये। दोनों आरोपियों ने यह नहीं बताया कि यह नोट किसके थे और कैसे बदलने की तैयारी की थी। पुलिस ने बताया कि दोनों ने धोखाधड़ी करके बंद नोट जुटाये थे, जिमसे एक हजार के 35 व 500 के 1930 नोट शामिल है। पुलिस के अनुसार इस घटना में दो और लोग शामिल है जो मौके का फायदा उठा कर फरार हो गये हैं, जिन्हें जल्द ही पकड़ा जायेगा।

एसएसपी ने पुलिस टीम को किया पुरस्कृत
एसएसपी रामकृष्ण भारद्वाज ने भारी मात्रा में बंद हो चुके नोटों को पकडऩे वाली पुलिस टीम को पांच हजार नगद देकर पुरस्कृत किया। पुरस्कृत होने वाले में सारनाथ एसओ अखिलेश कुमार मिश्रा, एसआई राकेश सिंह, प्रेम सिंह, बूटा सिंह आदि पुलिसकर्मी शामिल थे। खास बात है कि पहले भी गुडवर्क करने वाले पुलिसकर्मियों को नगद इनाम देने की घोषणा होती थी, लेकिन उन्हें यह इनाम मिलता था कि नहीं। इसकी जानकारी किसी को नहीं हो पाती थी, लेकिन एसएसपी रामकृष्ण भारद्वाज ने सार्वजनिक रुप से पुलिसकर्मियों को सम्मानित करके उनका हौसला बढ़ाया है। साथ ही व्यवस्था में बदलाव भी किया है। इस अवसर पर कैंट सीओ प्रशांत वर्मा भी उपस्थित रहे।

यह भी पढ़े :
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मॅट्रिमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???