Patrika Hindi News

पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र में देश की आजादी के लिए तिब्बती छात्र ने किया आत्मदाह का प्रयास

Updated: IST Tibetan Studen
तिब्बत के निर्वासित सरकार के पीएम भी आये हैं सारनाथ, जानिए क्या है कहानी

वाराणसी. सीमा विवाद के चलते चीन व भारत में तनाव चरम पर है। तिब्बत के निर्वासित सरकार के पीएम डा.लोबसांग सांगेय खुद सरनाथ में मौजूद थे और उन के कार्यक्रम स्थल से कुछ दूरी पर एक तिब्बती छात्र ने तिब्बत की आजादी के लिए आत्मदाह का प्रयास कर दिया। किसी तरह उसके साथियों ने आग बुझायी और एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां पर उसकी स्थिति गंभीर बनी हुई है।

पीएम नरेन्द्र मोदी के संसदीय क्षेत्र काशी में इन दिनों तिब्बत के निर्वासित सरकार के प्रधानमंत्री डा.लोबसांग सांगेय इन दिनों आये हुए हैं। केन्द्रीय तिब्बती विश्वविद्यालय के आतिशा हाल में शुक्रवार को पीएम डा.सांगेय चीन मुद्दे को लेकर भाषण दे रहे थे। कार्यक्रम स्थल से कुछ दूरी पर विश्वविद्यालय के छात्रावास में रहने वाले छात्र तेन जिंग च्यूंग (19) ने तिब्बत के आजादी के नारे लगाये और केरोसीन डाल कर आग लगा ली। देखते-देखते छात्र के शरीर से तेजी से लपटे निकलने लगी। कुछ ही देर में छात्र आग का शोला बना गया और इधर-उधर भागाने लगा। इसी बीच अन्य छात्र वहां पर पहुंचे और तुरंत कंबल डाल कर अपने साथी के शरीर पर लगी आग बुझायी। इसके बाद छात्र को तुरंत लंका स्थित एक निजी नर्सिंग होग में भर्ती कराया गया है।

50 प्रतिशत से अधिक जल गया है छात्र

छात्र का शरीर 50 प्रतिशत से अधिक जल गया है, जिसके चलते उसकी स्थिति गंभीर बनी है। घटना की जानकारी मिलते ही मौके पर पुलिस अधिकारी भी पहुंच गये हैं। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि प्रारंभिक जानकारी में चीन के रवैये से छात्र परेशान थे। वह अपने साथियों से कहता था कि उसके परिवार वालों को चीन प्रताडि़त कर रहा है। वह आत्महत्या कर लेगा तो दुनिया के अन्य देश मिल कर चीन को कड़ा सबक सिखायेंगे। पुलिस अन्य सभी मामलों को भी ध्यान में रखते हुए अपनी जांच शुरू कर दी है।

अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???