Patrika Hindi News

MP.Suicide आत्मदाह की धमकी दी, तब केस दर्ज

Updated: IST suicide

विदिशा. तीन मनचलों की छेड़छाड़ से तंग होकर खुदकुशी करने वाली छात्रा के परिजन मंगलवार को एसपी धर्मेंद्र चौधरी के पास पहुंचे। परिजनों ने आरोपियों पर एक माह बाद भी केस दर्ज नहीं होने पर आत्मदाह की धमकी दी। एसपी के निर्देश पर कोतवाली पुलिस ने तीन आरोपियों पर केस दर्ज किया है।

गौरतलब है कि 20 सितंबर को बालकदास की तलैया निवासी छात्रा दीक्षा सेन ने घर में फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली थी। दीक्षा के पिता अंशु सेन, मां ऊषा सेन, भाई और बहन एसपी के पास पहुंचे। अंशु ने एसपी को ज्ञापन देकर बताया कि उनकी 17 वर्षीय पुत्री दीक्षा से तीन युवक कोचिंग, स्कूल आते-जाते समय छेड़छाड़ करते थे। उनके साथ घूमने जाने के लिए दबाव बनाते थे। उनकी बात नहीं मानने पर सोशल साइट्स पर उसे बदनाम करने तथा भाई की हत्या करने की धमकी देते थे। इसी से तंग आकर दीक्षा ने फांसी लगाई थी। दीक्षा के साथ पढऩे वाली उनकी भतीजी वैशाली ने यह जानकारी दी थी।

घटना के बाद कोतवाली पुलिस को पूरा मामला बताया गया था, लेकिन आरोपियों पर अब तक कायमी नहीं की गई। कोतवाली में उनसे अभद्रता की जाती है। अंशु ने चेतावनी दी कि यदि आरोपियों के खिलाफ बेटी को आत्महत्या के लिए दुष्प्रेरित करने की कायमी नहीं हुई तो वे परिवार सहित आत्मदाह कर लेंगे। जिस पर एसपी चौधरी ने मामले को संज्ञान में लेते हुए तुरंत कोतवाली टीआई को फोन लगाकर चर्चा की और आरोपियों के खिलाफ कायमी कर गिरफ्तार करने के निर्देश दिए। जिस पर केस दर्ज किया गया।

कोतवाली टीआई राजेश तिवारी ने बताया कि आरोपी राहुल लोधी, शुभम पलिया और कुलदीप जादौन के खिलाफ भादंवि की धारा 306, 354-डी और 34 के तहत प्रकरण दर्ज किया गया है।

यह भी पढ़े :
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ?भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???