साप्ताहिक समीक्षा : पोस्ट राजन पीरियड में बाजार खुश

Weekly review : Share Market shines in post Rajan period

print 
Weekly review : Share Market shines in post Rajan period
9/7/2013 10:52:00 AM
Weekly review : Share Market shines in post Rajan period
Weekly review : Share Market shines in post Rajan period

मुंबई। देश के शेयर बाजारों के प्रमुख सूचकांकों सेंसेक्स और निफ्टी में पिछले सप्ताह तीन फीसदी से अधिक तेजी रही, जबकि बैंकिंग सेक्टर में 10 फीसदी उछाल दर्ज किया गया। रघुराम राजन के आरबीआई गर्वनर बनने के बाद से ही बाजार में उछाल आया है। आईसीआईसीआई बैंक के शेयर इसी अवधि में 19 फीसदी तेजी के साथ बंद हुए। बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स गत सप्ताह 3.49 फीसदी या 650.34 अंकों की तेजी के साथ 19,270.06 पर बंद हुआ।

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी इसी अवधि में 3.81 फीसदी या 208.6 अंकों की तेजी के साथ 5,680.40 पर बंद हुआ।

गत सप्ताह सेंसेक्स के 30 में से 21 शेयरों में तेजी रही। आईसीआईसीआई बैंक (19.23 फीसदी), भेल (19.20 फीसदी), ओएनजीसी (15.98 फीसदी), कोल इंडिया (10.76 फीसदी) और एसबीआई (7.85 फीसदी) में सर्वाधिक तेजी रही। गिरावट वाले शेयरों में प्रमुख रहे टाटा पावर (6.46 फीसदी), सेसा गोवा (6.33 फीसदी), हीरो मोटोकॉर्प (4.98 फीसदी), विप्रो (3.20 फीसदी) और इंफोसिस (2.75 फीसदी)।

गत सप्ताह बीएसई के मिडकैप और स्मॉलकैप सूचकांकों में भी दो फीसदी से अधिक तेजी रही। मिडकैप 2.84 फीसदी तेजी के साथ 5,451.01 पर और स्मॉलकैप 2.94 फीसदी तेजी के साथ 5,343.81 पर बंद हुआ।

गत सप्ताह बीएसई के 13 में से 11 सेक्टरों में तेजी रही। बैंकिंग (9.99 फीसदी), सार्वजनिक कंपनियां (8.32 फीसदी), तेल एवं गैस (5.19 फीसदी), पूंजीगत वस्तु (5.05 फीसदी) और धातु (4.67 फीसदी) में सर्वाधिक तेजी रही। दो सेक्टरों सूचना प्रौद्योगिकी (2.13 फीसदी) और प्रौद्योगिकी (1.09 फीसदी) में गिरावट रही।

गत सप्ताह के प्रमुख घटनाक्रमों में बुधवार को भारतीय रिजर्व बैंक के नए गवर्नर रघुराम राजन द्वारा रूपए के मूल्य में स्थिरता लाने संबंधी योजनाओं की घोषणा के बाद रूपए में डॉलर के मुकाबले तेजी दर्ज की गई। रूपया 65.23 के स्तर पर कारोबार कर रहा था, जो 30 अगस्त को 65.70 पर था और 28 अगस्त को 68.85 के ऎतिहासिक निचले स्तर पर पहुंच गया था।

राजन ने बुधवार को रिजर्व बैंक के नए गवर्नर का पद संभाला। उन्होंने पूर्व गवर्नर डी. सुब्बाराव की जगह ली है।

देश में विदेशी पूंजी का प्रवाह बनाने तथा रूपए के मूल्य में स्थिरता लाने के लिए राजन ने बुधवार को कई योजनाओं की घोषणा की। उन्होंने कहा कि वे बाजार में उदारीकरण को बढ़ावा देंगे। उन्होंने कहा कि वह भारतीय बैंकों द्वारा नई शाखाएं स्थापित करने के रास्ते की बाधाएं हटाएंगे। उन्होंने अनिवासी भातीयों से पूंजी आकर्षित करने की योजना बताई। वित्तीय संकट के समय सरकार पहले भी अनिवासी भारतीयों से मदद लेती रही है।

राजन ने कहा कि बैंकों के लिए सरकारी बांडों में एक निश्चित अनुपात में निवेश करने की बाध्यता धीरे-धीरे कम की जानी चाहिए, ताकि बैंकों के पास कर्ज देने के लिए अधिक राशि बचे। उन्होंने कहा कि बैंकिंग लाइसेंस जारी होते रहने चाहिए।

सोमवार को जारी सरकारी आंकड़ों के मुताबिक आठ प्रमुख उद्योगों में जुलाई 2013 में जुलाई 2012 के मुकाबले 3.1 फीसदी विकास दर्ज किया गया। आठ प्रमुख उद्योगों का औद्योगिक उत्पादन सूचकांक (आईआईपी) में 37.90 फीसदी योगदान होता है।

सोमवार को ही राज्यसभा ने खाद्य सुरक्षा विधेयक पारित कर दिया। लोकसभा में यह पहले ही पारित हो चुका है। अब कानून बनने के लिए इस विधेयक पर राष्ट्रपति का हस्ताक्षर होने की जरूरत है। विधेयक के प्रावधानों के मुताबिक देश की 80 फीसदी आबादी को सस्ते में अनाज उपलब्ध कराया जाएगा। निवेशकों को हालांकि चिंता है कि इससे सरकार पर सब्सिडी का बोझ बढ़ेगा और वित्तीय घाटे का लक्ष्य पूरा करने में कठिनाई होगी।

बुधवार को जारी आंकड़े के मुताबिक मार्किट द्वारा तैयार किया जाने वाला एचएसबीसी सर्विसेज पर्चेजिंग मैनेजर्स सूचकांक (पीएमआई) अगस्त में गिरावट के साथ 47.6 पर आ गई, जो अप्रैल 2009 के बाद से सबसे कम है। 50 से कम की रीडिंग का मतलब है कारोबारी क्षेत्र में गिरावट। जुलाई में यह रीडिंग 47.9 थी।

लोकसभा ने बुधवार को पेंशन फंड रेगुलेटरी एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी विधेयक 2011 को पारित कर दिया। इसमें पेंशन क्षेत्र में 26 फीसदी तक विदेशी निवेश की व्यवस्था की गई है।

भारत और जापान ने शुक्रवार को घोषणा की कि उन्होंने आपसी मुद्रा विनिमय सुविधा को मौजूदा 15 अरब डॉलर से बढ़ाकर 50 अरब डॉलर करने का फैसला किया है। यह घोषणा जी20 शिखर सम्मेलन के इतर मौके पर द्विपक्षीय बैठक के बाद की गई।


    Comments
    Write to the Editor
    Type in Hindi (Press Ctrl+g to toggle between English and Hindi)
    Terms & Conditions
    Comments are moderated. Comments that include profanity or personal attacks or other inappropriate comments or material will be removed from the site. Additionally, entries that are unsigned or contain "signatures" by someone other than the actual author will be removed. Finally, we will take steps to block users who violate any of our posting standards, terms of use or privacy policies or any other policies governing this site.
    Name:      
    Location:    
    E-mail:      
       
           
        
     
     
    Top