Patrika Hindi News

सेहत के लिए सेब, बुखार में केवड़े का जूस है लाभकारी

Updated: IST Apple eating
नियमित रूप से सेब खाने से कैंसर, मधुमेह, अल्जाइमर, पार्किंसन जैसी बीमारियों से बचा जा सकता है। एंटी ऑक्सीडेंट रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाता है।

सेब सभी आवश्यक पोषक तत्वों से परिपूर्ण होता है। इसमें प्रोटीन, खनिज, कार्बोहाइड्रेट, वसा, रेशा होता है। विटामिनों में एऔर सी की प्रधानता होती है। इनके अलावा विटामिन बी काम्प्लेक्स, विटामिन ई, कैल्शियम व फास्फोरस होता है नियमित रूप से सेब खाने से कैंसर, मधुमेह, अल्जाइमर, पार्किंसन जैसी बीमारियों से बचा जा सकता है। एंटी ऑक्सीडेंट रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाता है।

दिन में एक बार सेब का सेवन टाइप-2 मधुमेह के खतरे को 28 फीसदी कम करता है। सेब कोलेस्ट्रॉल के साथ-साथ वजन को भी नियंत्रित रखता है। सेब पित्ताशय में पथरी बनने से रोकता है। इसके रेशे इनडाइजेशन व डायरिया में फायदेमंद हैं। सेब के रस में मिश्री मिलाकर लेने से खांसी दूर होती है। इसका रस आंतों के घाव को भी ठीक कर देता है। सेब पर सेंधा नमक लगाकर दो सप्ताह खाने से सिरदर्द गायब हो जाता है।

बुखार में केवड़े के जूस से लाभ
केवड़े का रस 40 से 60 मिलीलीटर की मात्रा में बुखार से पीडि़त रोगी को पिलाने से बुखार उतर जाता है।
कमर दर्द होने पर
केवड़े के तेल से मालिश करने से कमर दर्द ठीक होता है।
सिरदर्द
केवड़े को पानी और सफेद चन्दन के साथ घिसकर एक बर्तन में रखकर कपड़े से बांध दें और फिर यह रोगी को सुंघाएं। इससे गर्मी से होने वाला सिर दर्द ठीक होता है।
खुजली
खुजली में केवड़े के पत्तों को पीसकर लगाने से लाभ होता है।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???