Patrika Hindi News

जानें बोरियत दूर करने के इन 10 अनूठे उपाय के बारे में

Updated: IST boredom
बोरियत के समय बेवजह खाने से अच्छा है कि ये कुछ अनूठे उपाय अपनाएं जिससे कई काम भी पूरे हो सकेंगे।

हैल्थ एक्सपर्ट ट्विंकल हारिया कहती हैं कि हम बोरियत में बिना भूख के कुछ भी उल्टा-सीधा खाते हैं। जिससे हमें एनर्जी कम मिलती है और चर्बी ज्यादा बढ़ती है। इसलिए बोरियत के समय बेवजह खाने से अच्छा है कि ये कुछ अनूठे उपाय अपनाएं जिससे कई काम भी पूरे हो सकेंगे।

कुछ दूर ऐसे ही घूम आएं
खाली समय में 10 से 15 मिनट यूं ही घूम लेने से मन हल्का हो जाता है।
पुराना एलबम देखें
बोरियत दूर करने के लिए कोई पुराना एलबम या फोटो देखना बढिय़ा विकल्प है, इससे पुरानी यादें भी ताजा होती हैं। संभव हो तो ऐसे समय में प्रिंटेड एलबम ही देखें, डिजीटल नहीं।
पानी या ग्रीन टी पी लें
गुनगुना पानी या बिना चीनी वाली ग्रीन टी पीने से तनाव दूर होता है।
मनपसंद किताब या जोक्स पढें
अपनी पसंद की किताबें या जोक्स पढऩे से भी आपकी बोरियत कम होगी क्योंकि किताब के शब्द आपके दिमाग में होंगे तो खाने की तरफ भी ध्यान नहीं जाएगा।

बिखरी चीजें करें व्यवस्थित
खाली समय में बिखरी चीजों को निश्चित स्थान पर रखने से सकारात्मक अनुभव होता है।
फ्रिज/नमकीन को भूल जाएं
यह अनुशासन अभ्यास से लाया जा सकता है। अपने मन को भटकने से रोकें और खाने के विचार को मन में ना लाएं।
गुनगुने पानी से नहा लें
ऐसा करना इसलिए अच्छा है कि इससे आपकी सुस्ती दूर होगी और बोरियत में ताजगी का भी एहसास होगा। इसके अलावा खाली समय में मन की शांति के लिए आप भगवान की प्रार्थना भी कर सकते हैं।

किसी दोस्त से बातें कर लें
किसी ऐसे दोस्त से बातें कर लें जिसे आप हमेशा याद तो करते हैं लेकिन समय के अभाव में उससे बात नहीं हो पाती है।
परोपकारी बनें-प्रकृति को संवारें
जब कोई काम ना हो तो घर के आसपास पेड़-पौधों की देखभाल का काम ही कर लें। इससे आप प्रकृति को भी संवार सकेंगे व परोपकार का काम भी कर सकेंगे।
आंखे मूंद ध्यान कर लें
आलथी-पालथी मारकर आंखें मूंद कुछ मिनट ध्यान कर लें। बिना तर्क-कुतर्क किए अपने मन से बेकार व नकारात्मक विचारों को निकाल दें।

यह भी पढ़े :
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं? निःशुल्क रजिस्टर करें ! - BharatMatrimony
LIVE CRICKET SCORE

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???