Patrika Hindi News

मां का ब्लडप्रेशर बताएगा, गर्भ में लड़का है या लड़की

Updated: IST pregnant
एक नए शोध में बताया गया है कि भावी मां के रक्तचाप से बच्चे के लिंग का पता चल सकता है।गर्भाधान से पहले जिन महिलाओं का रक्तचाप कम होता है, उनमें बेटी को जन्म देने की संभावना ज्यादा होती है।

नई दिल्ली. पुरानी मान्यताओं औरसिद्धांतो को धता बताते हुए एक नए शोध में बताया गया है कि भावी मां के रक्तचाप से बच्चे के लिंग का पता चल सकता है। शोध के मुताबिक गर्भाधान से पहले जिन महिलाओं का रक्तचाप कम होता है, उनमें बेटी को जन्म देने की संभावना ज्यादा होती है।

अमरीकन जर्नल ऑफ हाइपरटेंशन में प्रकाशित कनाडा के माउंट सिनाई अस्पताल के एंडोक्रेनोलॉजिस्ट डा. रवि रत्नाकरण के नेतृत्व में हुए शोध में शोधकर्ताओं ने मां की गर्भार्धान से पहले की सेहत और बच्चे के लिंग के बीच संबंध तलाशा है।
इस शोध के निष्कर्ष में बताया गया है कि गर्भदारण से पूर्व उच्च रक्तचाप महिला में लड़के को जन्म देने का संकेत है, जबकि कम रक्तचाप लड़की को जन्म देने का संकेत है।

यह शोध फरवरी 2009 में शुरू किया गया था। इसमें चीन की 3,375 महिलाओं को शामिल किया गया था। इसमें गर्भाधान से पहले मां का उच्च रक्तचाप गर्भ में लड़का होने का संकेत देता मिला। रत्नाकरण के मुताबिक इससे पता चलता है कि गर्भाधान से पहले महिला का रक्तचाप एक ऐसा तथ्य है, जिसके बारे में अभी तक ध्यान नहीं दिया गया था और यह तथ्य गर्भ में पलने वाले बच्चे के लिंग से जुड़ा है।

जीवविज्ञान के सिद्धांत के खिलाफ है शोध के परिणाम

अभी तक चिकित्सा विज्ञान में यह सत्यापित रूप से माना जाता रहा है कि मानव का लिंग निर्धारण पुरुष के क्रोमोसोम पर निर्भर करता है और स्त्री का लिंग निर्धारण से कोई सम्बन्ध नहीं है। एक व्यक्ति की कोशिका में 46 क्रोमोसोम 23 जोड़ों के रूप में होते हैं। इन जोड़ों में से 22 जोडं़े तो स्त्री-पुरूष में एक जैसे होते हैं, जिन्हें ओटोसोम्सं कहा जाता है, पर 23वां जोड़ा सेक्स क्रोमोसोम कहलाता है। ये जोड़ा 2 तरह का होता है। ये स्त्रियों में एक्स-एक्स और पुरुषों में एक्स-वाई कहलाता है। संभोग क्रिया के समय अगर पुरुषों के शुक्राणु एक्स स्त्री के अण्डाणु एक्स से मिलते हैं तो लड़की का जन्म होता है। अगर पुरुषों का वाई क्रोमोसोम और स्त्री का एक्स क्रोमोसोम आपस में मिल जाएंगे तो लड़का पैदा होता है। इन क्रोमोसोमों का मिलना प्रकृति की इच्छा पर निर्भर करता है।

अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???