नरभक्षी ने पुलिस के सामने किया सरेंडर, बोला- इंसान का गोश्त खाकर उब गया हूं

Chandra Prakash

Publish: Aug, 23 2017 01:39:00 PM (IST)

अफ्रीका
नरभक्षी ने पुलिस के सामने किया सरेंडर, बोला- इंसान का गोश्त खाकर उब गया हूं

एक शख्स पुलिस स्टेशन पहुंच कर खुद को नरभक्षी बताते हुए कहा कि अब मैं इंसानी गोश्त खाते खाते उब चुका हूं।

नई दिल्ली। दक्षिण अफ्रीका के एक शहर में एक ऐसे शख्स ने पुलिस के सामने सरेंडर किया है, जिसकी कहानी सुनकर किसी के भी रोंगटे खड़े हो जाए। यहां एक शख्स पुलिस स्टेशन पहुंच कर खुद को नरभक्षी बताते हुए कहा कि अब मैं इंसानी गोश्त खाते खाते उब चुका हूं।


घर में हर ओर बिखरा का मानव अंग
अजीबों गरीब बातें सुनकर पुलिस ने पहले उस व्यक्ति को पागल समझा लेकिन जब उस नरभक्षी ने एक इंसान का कटा हुआ पैर पुलिस के सामने रखा तो पुलिस के होश उड़ गए। आनन फानन में पुलिस ने सबूतों की तलाश में क्लाजुलू-नेटल स्थित उस शख्स के घर पहुंची तो उनका दिमाग चकरा गया। घर में कई कटे हुए मानव अंग मिले। पुलिस ने सभी मानव अंगों को कब्जे में लेकर डीएनए टेस्ट के लिए भेज दिया है। इसके साथ ही तीन संदिग्ध लोगों को गिरफ्तार भी किया है।

पिटाई के बाद खाया मानव मस्तिष्क
वहीं दूसरी ओर आंध्रप्रदेश के पश्चिमी आई गोदावरी में कोवुर ग्रामीण मंडल के आई-पांगिडी गांव एक शख्स ने दूसरे शख्स की हत्या कर उसका दिमाग खाया। पुलिस के मुताबिक 59 साल का यह शख्स दिमागी रूप से बीमार है। मरने वाले शख्स का नाम मुप्पीदी चीन नागेश्वर राव है। नागेश्वर राव पानगिड़ी आई गांव की ग्राम पंचायत के लिए काम करता था। यह जगह आंध्र प्रदेश के राजामुंदरी में आती है। दिमागी रूप से बीमार शख्स ने मंगलवार को मृतक नागेश्वर राव को एक डंडे से तब तक मारा जब तक उसका दिमाग नहीं खुल गया। जब मृतक राव का सिर पूरी तरह से फट गया तब आरोपी शख्स ने राव के दिमाग के हर हिस्से को खाया।


ग्राम पंचायत के लिए काम करता था मृतक राव
पुलिस ने बताया कि नागेश्वर राव पंचायत के लिए काम करता था। उसका काम गांव में सड़के बनाना और पेड़-पौधे यानी हरियाली करने का था। इसके अलावा वह शौचालय में इस्तेमाल किए जाने वाला टैंक का प्रभारी भी था।

Ad Block is Banned